ताज़ा खबर
 

जापान ओपन: सायना नेहवाल भी हारीं, महिला सिंगल में भारतीय चुनौती खत्‍म

ओलम्पिक कांस्य पदक विजेता भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल को गुरुवार को मिली हार के साथ ही जापान ओपन के महिला एकल वर्ग में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई है।

Author नई दिल्ली | September 21, 2017 4:58 PM
जापान ओपन के महिला एकल वर्ग में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई है।

ओलम्पिक कांस्य पदक विजेता भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल को गुरुवार को मिली हार के साथ ही जापान ओपन के महिला एकल वर्ग में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई है। सायना से पहले पी.वी. सिंधु को हार का सामना कर टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा था। महिला एकल वर्ग में गुरुवार को खेले गए मैच में स्पेन की स्टार खिलाड़ी और रियो ओलम्पिक की स्वर्ण पदक विजेता कैरोलीना मारिन ने सायना को सीधे गेमों में 21-16, 21-13 से मात देकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।

इससे पहले, कोरिया ओपन के फाइनल में मिली हार का बदला लेते हुए जापानी खिलाड़ी नोजोमी ओकुहारा ने भारत की अग्रणी महिला बैडमिटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु को गुरुवार को जापान ओपन से बाहर कर दिया है। महिला एकल वर्ग के दूसरे दौर में ओकुहारा ने दूसरी विश्व वरीयता प्राप्त सिंधु को 21-18, 21-8 से मात देकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। पहले गेम में सिंधु ने किसी तरह आठवीं विश्व वरीयता प्राप्त ओकुहारा को अच्छी टक्कर देने की कोशिश की, लेकिन वह हार गईं। दूसरा गेम एकतरफा नजर आ रहा था, जहां सिंधु हर प्रकार से ओकुहारा के आगे कमजोर नजर आ रही थीं।

बता दें कि सिंधु दूसरे गेम में ओकुहारा के आक्रामक खेल का सामना नहीं कर पाईं और हार गईं। ओकुहारा ने इस जीत के साथ ही सिंधु के खिलाफ अब तक खेले गए नौ मुकाबलों में 5-4 से बढ़त हासिल कर ली है। क्वार्टर फाइनल में ओकुहारा का सामना अमेरिकी खिलाड़ी बीवेई झांग से होगा। दूसरी तरफ, बेहतरीन फॉर्म में चल रहीं भारतीय खिलाड़ी पी. वी. सिंधु ने गत रविवार को कोरिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट जीतकर नया इतिहास रचा था। जापान की नोजोमी ओकुहारा से विश्व चैम्पियनशिप में मिली हार का बदला लेकर सिंधु कोरिया ओपन जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई थीं। गौरतलब है कि इस साल विश्व चैम्पियशिप के फाइनल में ओकुहारा ने सिंधु को मात देकर स्वर्ण पदक जीता था और भारतीय खिलाड़ी को रजत पदक से संतोष करना पड़ा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App