ताज़ा खबर
 

PSL 2020: सुपर ओवर जीतकर पहली बार फाइनल में पहुंचा कराची, बाबर आजम का विस्फोटक अर्धशतक; हफीज की बदौलत लाहौर ने पेशावर को रौंदा

सुपर ओवर में कराची ने 1 विकेट पर 13 रन बनाए। मुल्तान की टीम को फाइनल में जाने के लिए 14 रन बनाने थे। गेंद पाकिस्तान के बेस्ट गेंदबाज मोहम्मद आमिर के हाथों में थी। उन्होंने सिर्फ 8 रन ही दिए और कराची की टीम पहली बार फाइनल में पहुंच गई।

पाकिस्तान सुपर लीग का फाइनल मुकाबला 17 नवंबर को खेला जाएगा। (सोर्स – सोशल मीडिया

पाकिस्तान सुपर लीग 2020 में शनिवार (14 नवंबर) को दो मुकाबले खेले गए। क्वालीफायर मुकाबले में कराची किंग्स ने मुल्तान सुल्तान को सुपर ओवर में हराकर पहली बार फाइनल में अपना स्थान पक्का कर लिया। वहीं, एलिमिनेटर-1 में लाहौर कलंदर्स ने पेशावर जालमी को 5 विकेट से रौंद दिया। इस जीत के साथ ही वह एलिमिनेटर-2 में पहुंच गया। जहां उसका मुकाबला क्वालीफायर में हारने वाली टीम मुल्तान से होगा। इस मैच में जो टीम जीत जाएगी, वह फाइनल में कराची से खेलेगी।

क्वालीफायर मैच: कराची ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। मुल्तान की टीम 20 ओवर में 7 विकेट पर 141 रन बनाए। उसके लिए रवि बोपारा ने सबसे ज्यादा 40 रन बनाए। सोहैल तनवीर ने 25 रनों का योगदान दिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी कराची की टीम भी 20 ओवर में 8 विकेट 141 रन ही बना सकी। बाबर आजम ने सबसे ज्यादा 65 रन बनाए। 53 गेंद की पारी में उन्होंने 5 चौके और 2 छक्के लगाए। आखिरी ओवर में जीत के लिए कराची को 7 रन बनाने थे, लेकिन टीम मोहम्मद इलियास की गेंद पर 6 रन ही बना सकी। अंतिम गेंद पर कप्तान इमाद वसीम ने चौका लगाकर मैच को टाई कराया और मैच सुपर ओवर में पहुंच गया।

सुपर ओवर में कराची ने 1 विकेट पर 13 रन बनाए। सोहैल तनवीर की गेंद पर शर्जील खान एक रन बनाकर आउट हुए। शेरफेन रदरफोर्ड ने 11 रन बनाए। उन्होंने एक चौका और एक छक्का लगाया। तनवीर ने एक गेंद वाइड किया था। मुल्तान की टीम को फाइनल में जाने के लिए 14 रन बनाने थे। गेंद पाकिस्तान के बेस्ट गेंदबाज मोहम्मद आमिर के हाथों में थी। उन्होंने सिर्फ 8 रन ही दिए और कराची की टीम पहली बार फाइनल में पहुंच गई। दक्षिण अफ्रीका के रिलो रोसो और रवि बोपारा उनका सामना नहीं कर सके।

एलिमिनेटर-1: लाहौर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। पेशावर की टीम ने 20 ओवर में 9 विकेट पर 170 रन बनाए। उसके लिए शोएब मलिक ने 39, हार्डुस विल्जोएन ने 37 और फाफ डुप्लेसिस ने 31 रन की पारी खेली। लाहौर के लिए दिलबर हुसैन ने 3 विकेट चटकाए। शाहीन अफरीदी, हारिस रउफ और डेविड विज ने 2-2 विकेट लिए। 171 रन के लक्ष्य को लाहौर ने 19 ओवर में 5 विकेट पर हासिल कर लिया। मोहम्मद हफीज ने सबसे ज्यादा 74 रन बनाए। 46 गेंद की पारी में उन्होंने 9 चौके और 2 छक्के लगाए। लाहौर पहली बार प्लेऑफ में जीता है।

Next Stories
1 Love Story : जब सलमान खान की गर्लफ्रेंड को मोहम्मद अजहरुद्दीन ने दिया सहारा, 14 साल में टूट गई थी शादी
2 जवाहरलाल नेहरू क्रिकेट में भी थे ‘एक्स्ट्रा स्पेशल’, लेकिन अंग्रेजों ने नहीं दी थी प्लेइंग इलेवन में जगह; तब उठाया था यह कदम
3 ‘विराट कोहली से हुए झगड़ों पर पछतावा नहीं, आगे भी ऐसा होता तो मैं पीछे नहीं हटता’, इंटरव्यू में बोले थे गौतम गंभीर
यह पढ़ा क्या?
X