ताज़ा खबर
 

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की मदद कर रहे भिवानी और कोझिकोड के ये गेंदबाज

India vs Australia : साहू और जियास को अभ्यास के दौरान ऑस्ट्रेलिया की जेर्सी में देखा गया है। दोनों खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया टीम के साथ अभ्यास करते हैं और दोनों का काम ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को स्पिनरों के खिलाफ तैयार करना है।

Author March 13, 2019 11:42 AM
साहू और जियास को अभ्यास के दौरान ऑस्ट्रेलिया की जेर्सी में देखा गया (indian express picture)

भिवानी के एक 33 वर्षीय लेग स्पिनर प्रदीप साहू जिन्होंने एक भी फर्स्ट क्लास मैच नहीं खेले इस साल इंग्लैंड में खेले जाने वाले वनडे विश्वकप के लिए ऑस्ट्रेलिया का हिस्सा रहेंगे। प्रदीप के साथ कोझिकोड में रहने वाले चाइनामैन गेंदबाज़ के.के. जियस भी ऑस्ट्रेलिया के सपोर्ट स्टाफ का हिस्सा बन सकते हैं। साहू और जियास को अभ्यास के दौरान ऑस्ट्रेलिया की जेर्सी में देखा गया है। दोनों खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया टीम के साथ अभ्यास करते हैं और दोनों का काम ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को स्पिनरों के खिलाफ तैयार करना है।

भारत और पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज में ऑस्ट्रेलियाई सपोर्ट स्टाफ का हिस्सा बनने के बाद, दोनों खिलाड़ी विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया को अपनी सेवाएं देंगे। साहू ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए बताया ““मैंने यूएई में पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज के लिए अक्टूबर 2018 में ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ एक नेट बॉलर के रूप में काम करना शुरू किया और अब भारत के खिलाफ खेली जा रही सीरीज में भी ऑस्ट्रेलिया का हिस्सा हूं। इसके बाद मैं पाकिस्तान के खिलाफ एक और श्रृंखला के लिए यूएई लौटूंगा, जिसके बाद मैं विश्व कप के लिए उनके साथ इंग्लैंड जाऊंगा।”

गुरुवार को दिल्ली के फ़िरोज़ शाह कोटला मैदान में खेले जाने वाले निर्णायक मुकाबले से पहले साहू और जियास उच्च मांग में हैं। भारत ने इस मैच में अपने दो मुख्य स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव के साथ उतरेगा। साहू और जियास ने करीब ढाई घंटे तक गेंदबाजी की और पूरे ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम ने उनका सामना किया। कोच जस्टिन लैंगर ने लगातार दोनों स्पिनरों को अपनी लाइन, लेंथ बदलने के लिए कहा। कोच ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को मैच की स्थितियों का एहसास दिलाना चाहते थे।

भारत के पूर्व खिलाड़ी श्रीधर श्रीराम ने साहू को ऑस्ट्रेलिया टीम से जोड़ा है। श्रीराम ऑस्ट्रेलिया के स्पिन गेंदबाज़ कोच हैं। साहू ने कहा “पिछले साल, मैं घर पर बैठा था, जब श्रीराम सर ने मुझे फोन किया। मुझे पहली बार आश्चर्य हुआ जब उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या मैं दुबई आ सकता हूं। मैंने शुरू में सोचा था कि यह कुछ आईपीएल शिविर के लिए है, इसलिए मैंने उनका प्रस्ताव स्वीकार कर लिया और दुबई चला गया। वहां, उन्होंने मुझे बताया कि ऑस्ट्रेलियाई टीम पाकिस्तान के खिलाफ स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ अभ्यास करने के लिए मेरी सेवाओं का उपयोग करना चाहती है।” बता दें आईपीएल 2016 में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हुए साहू ने शानदार प्रदर्शन किया था। साहू ने इस मैच में केकेआर के सलामी बल्लेबाजों रॉबिन उथप्पा और गौतम गंभीर को आउट किया था। उनके इस प्रदर्शन से श्रीराम विशेष रूप से प्रभावित हुए थे।

Next Stories
1 नारियल के पेड़ की शाखा से बने बैट से प्रैक्टिस कर कमाया हुनर! महानतम बल्लेबाजों में शुमार ब्रायन लारा ने खोले राज
2 IPL 2019: आईपीएल से पहले सुरेश रैना ने बिखेरा अपनी आवाज का जादू, देखें Video
3 अश्विन ने बुलाया तो मैच खेलने पहुंच गए पुजारा, ठोक दिए 162 रन
चुनावी चैलेंज
X