ताज़ा खबर
 

‘हेडलाइंस में आने को लोग कुछ भी लिख देते हैं,’ MS Dhoni पर सवाल उठाने वाले बेन स्टोक्स पर माइकल होल्डिंग ने कसा तंज

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने दावा किया है कि महेंद्र सिंह धोनी आईसीसी विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ मैच जीतना चाहते थे। उन्होंने कहा, स्टोक्स सोच रहे हैं कि यदि वह कुछ फैक्ट उठाएंगे तो उनकी किताब बिकने लगेगी।

MS DHONI 2019 850आईसीसी वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ लीग मैच में महेंद्र सिंह धोनी 31 गेंद पर 42 रन बनाकर नॉटआउट रहे थे।

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने महेंद्र सिंह धोनी पर सवाल उठाने वाले इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि लोग हेडलाइन में आने के लिए कुछ भी लिख देते हैं। साथ ही दावा किया कि धोनी आईसीसी विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ मैच जीतना चाहते थे। दरअसल, यह सारा बखेड़ा इंग्लैंड को पहली बार विश्व चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले ऑलराउंडर बेन स्टोक्स की किताब ‘ऑन फायर’ के कारण हुआ है।

स्टोक्स ने अपनी किताब ‘ऑन फायर’में भारतीय टीम पर सवाल उठाते हुए कहा है कि टीम इंडिया ने लीग चरण में बर्मिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ मैच जीतने की तत्परता नहीं दिखाई थी। स्टोक्स ने साथ ही धोनी की कोशिश पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा कि भारत के जीतने की उम्मीद थी, इसके बावजूद धोनी बड़े शॉट नहीं लगा रहे थे। आखिरी 10 ओवर में महेंद्र सिंह धोनी की एप्रोच को देखकर वह काफी हैरान थे।

338 रनों का पीछा करने उतरी टीम इंडिया वह मैच 31 रन से हार गई थी। भारतीय टीम 50 ओवर में 5 विकेट पर 306 रन ही बना पाई थी। धोनी उस मैच में 31 गेंदों पर 42 रन बनाकर नाबाद रहे थे। उस जीत से इंग्लैंड सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई कर गया। स्टोक्स के दावे के बाद पाकिस्तान के कुछ पूर्व क्रिकेटरों ने भारत पर जानबूझकर मैच हारने का बेतुका आरोप लगाया। कुछ ने तो आईसीसी से बीसीसीआई पर जुर्माना लगाने की भी मांग कर डाली।

होल्डिंग का मानना है कि बेन स्टोक्स का धोनी की प्रतिबद्धता पर सवाल उठाना बिलकुल गलत है। होल्डिंग ने अपने आधिकारिक यू-ट्यूब चैनल पर कहा, ‘यह मैच ऐसा नहीं था जिसे भारत जीत नहीं सकता था। लेकिन मुझे नहीं लगता कि कोई यह कह सकता है कि टीम इंडिया ने जीतने की कोशिश नहीं की। मैंने वह मैच देखा था। मुझे ऐसा नहीं लगा कि भारत ने उस मुकाबले में अपना 100 फीसदी नहीं दे पाया। मैंने धोनी का चेहरा देखा था। उनका चेहरा साफतौर पर कह रहा था कि वह यह मैच जीतना चाहते थे।’

होल्डिंग ने कहा, ‘लोग आजकल अपनी किताब में कुछ भी लिख देते हैं, क्योंकि लोग अपनी बात कहने के लिए स्वतंत्र हैं। जब यह लोग किताब लिखते हैं तो इन्हें ऐसी बातें अपनी किताब में कहनी होती हैं जिससे उन्हें हेडलाइन मिल सके।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मोहम्मद शमी ने कहा- साबित करो आरोप, पत्नी हसीन जहां बोलीं- जिंदगी छोटी पड़ जाएगी; देखें VIDEO
2 ‘4000 करोड़ के नुकसान की आशंका के बावजूद न सैलरी कटेगी, न छंटनी होगी,’ बोले- बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरुण धूमल
3 VIDEO: रोहित शर्मा करते हैं पत्नी रितिका की बात सुनने का ‘नाटक,’ शिखर धवन-मयंक अग्रवाल के सामने खाई एक और बुरी आदत छोड़ने की कसम
ये पढ़ा क्या?
X