ताज़ा खबर
 

पूर्व दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज ने विराट कोहली को बताया ‘जोकर’, कहा- ICC करता है भेदभाव

हैरिस का कहना है कि हाल ही में हुई भारत-दक्षिण अफ्रीका सीरीज के दौरान कोहली जोकर जैसा व्यवहार कर रहे थे, लेकिन आईसीसी ने उन्हें किसी तरह की सजा नहीं दी। हैरिस ने कहा कि आईसीसी को शायद रबादा या फिर दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों से कोई समस्या है।

विराट कोहली (image source- Reuters)

पूर्व दक्षिण अफ्रीकी स्पिनर पॉल हैरिस ने हाल ही में हुए कगिसो रबादा और स्टीव स्मिथ विवाद में भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली को भी खींच लिया है। हैरिस का कहना है कि ‘हाल ही में हुई भारत-दक्षिण अफ्रीका सीरीज के दौरान कोहली जोकर जैसा व्यवहार कर रहे थे, लेकिन आईसीसी ने उन्हें किसी तरह की सजा नहीं दी।’ हैरिस ने कहा कि ‘आईसीसी को शायद रबादा या फिर दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों से कोई समस्या है।’ पॉल हैरिस ने ट्वीट कर ये बात कहीं। बता दें कि दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज चल रही है। इसी सीरीज के दूसरे मैच में अफ्रीकी गेंदबाज कगिसो रबादा का ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ विवाद हो गया था। जिसके बाद आईसीसी ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए रबादा को मौजूदा 2 टेस्ट मैचों के लिए बर्खास्त कर दिया है।

हालांकि रबादा ने सजा के खिलाफ अपील की है। जिस पर सुनवाई के बाद तय हो सकेगा कि रबादा बाकी बची सीरीज में खेल पाएंगे या नहीं। दरअसल रबादा ने स्टीव स्मिथ को आउट करने के बाद उन्हें जानबूझकर धक्का मारा था। जिसके बाद आईसीसी ने रबादा को दोषी मानते हुए उन पर मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगाया था और साथ ही रबादा के खाते में 3 डिमेरिट अंक भी जोड़ दिए थे। 3 डिमेरिट अंकों को जोड़ने के बाद रबादा के खाते में पिछले मिलाकर 8 डिमेरिट अंक हो गए। जिससे नियमों के अनुसार रबादा ऑटोमैटिकली 2 टेस्ट मैचों के लिए बर्खास्त हो गए।

उल्लेखनीय है कि साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही मौजूदा सीरीज काफी कड़ा मुकाबला देखने को मिल रहा है। पहला मैच जहां ऑस्ट्रेलिया ने जीता, वहीं साउथ अफ्रीका ने दूसरा टेस्ट जीतकर शानदार वापसी की है। सीरीज काफी गरमा-गरम माहौल में खेली जा रही है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कगिसो रबादा इस सीरीज में दंडित होने वाले 5वें खिलाड़ी हैं। रबादा से पहले डेविड वॉर्नर, नाथन लियोन, मिचेल मार्श और क्विंटन डिकॉक दंडित हो चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App