ताज़ा खबर
 

दिव्यांग एथलीट ने मांगी थी पीएम मोदी से मदद, अधिकारियों ने खेलने से ही रोक दिया!

रिपोर्ट के अनुसार, सुवर्णा ने कहा कि वह इसके खिलाफ शिकायत करेंगी और जो भी दोषी हैं, उन्हें नहीं छोड़ेंगी। उन्होंने कहा कि जिस तरह का व्यवहार दिव्यांग खिलाड़ियों के साथ पंचकूला स्टेडियम में किया गया है, ऐसा कभी कहीं नहीं हुआ।

Author नई दिल्ली | March 28, 2018 2:02 PM
पैरा एथलीट सुवर्णा राज। (Photo Source: Facebook@SuvarnaRaj)

भारतीय पैरा एथलीट सुवर्णा ने सरकार द्वारा खिलाड़ियों को दी जानी वाली सुविधाओं को लेकर सवाल उठाए थे। पंचकूला में आयोजित की गई 18वीं नेशनल पैरा एथलिटिक्स चैम्पियनशिप में दिव्यांग खिलड़ियों के लिए खराब व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए सुवर्णा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ट्वीट कर मदद मांगी थी। इस मामले में सुवर्णा की सरकार द्वारा मदद तो नहीं की गई, बल्कि उन्हें खेल में हिस्सा लेने से भी रोक दिया गया। मंगलवार को इसकी जानकारी सुवर्णा ने एक ट्वीट करके दी।

सुवर्णा ने लिखा, “पीसीआई अधिकारियों ने आज मुझे खेलने से रोक दिया, क्योंकि मैंने दिव्यांग खिलाड़ियों के अधिकार के लिए आवाज उठाई थी। अब मैं घर जा रही हूं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलना चाहती हूं, क्योंकि पैरालम्पिक कमीशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष राव इंद्रजीत सिंह और राज्यवर्धन राठौर पैरा एथलीट से मुलाकात नहीं करते हैं।” बता दें कि शनिवार को ट्वीट में सुवर्णा ने लिखा था, “पीएम नरेंद्र मोदी सर, अभी दोपहर के 11:25 हो रहे हैं। हम दो दिव्यांग महिलाएं पंचकूला स्थित ताऊ देवीलाल स्टेडियम की सड़क पर खड़ी हैं। यहां कोई भी पीसीआई से नहीं है, जो हमारी मदद कर सके। हम यहां के शौचालयों का भी इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं, क्योंकि उनकी हालत बहुत खराब है।”

मंगलवार को सुवर्णा का जेवलिन थ्रो का मुकाबला था, लेकिन चैम्पियनशिन के आयोजकों ने उन्हें खेलने से रोक दिया। दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, सुवर्णा ने कहा कि वह इसके खिलाफ शिकायत करेंगी और जो भी दोषी हैं, उन्हें नहीं छोड़ेंगी। उन्होंने कहा कि जिस तरह का व्यवहार दिव्यांग खिलाड़ियों के साथ पंचकूला स्टेडियम में किया गया है, ऐसा कभी कहीं नहीं हुआ। बता दें कि इससे पहले सुवर्णा के पति और पैरा एथलीट प्रदीप राज ने 18वीं नेशनल पैरा एथलिटिक्स चैम्पियनशिप में दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए सुविधाओं की कमी को लेकर आवाज उठाई थी। उन्होंने खिलड़ियों के लिए की गई बदइंतजामी की कुछ तस्वीरें भी अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर कर प्रधानमंत्री को अपनी परेशानी से अवगत कराया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App