ताज़ा खबर
 

VIDEO: रेफरी का फैसला पसंद नहीं आया तो मैदान पर बंदूक लेकर पहुंच गया टीम का मालिक

रविवार के इस मैच को बहस के दो घंटे के बाद रद्द कर दिया गया। एईके का कहना है कि मैदान का माहौल बहुत गंभीर हो गया था और ऐसे माहौल में मैच फिर से नहीं खेला जा सकता था। हालांकि रेफरी मैच को फिर से शुरू करने के पक्ष में थे।

पीएओके के अध्यक्ष और टीम के मालिक इवान सैविडिस (AP फोटो)

ग्रीक सुपरलीग में रविवार को पीएओके सलोनिका और एईके एथेन के बीच खेला गया मैच विवाद होने के कारण रद्द कर दिया गया है। रेफरी के एक फैसले से पीएओके के अध्यक्ष और टीम के मालिक इवान सैविडिस इतना नाराज हो गए कि वह मैदान में बंदूक लेकर पहुंच गए। दरअसल, 11 मार्च को टुम्बा स्टेडियम में खेले गए मैच के 90वें मिनट में पीओएके की ओर से एक गोल किया गया, जिसे रेफरी ने खारिज कर दिया। रेफरी के फैसले से इवान काफी नाराज हो गए। वह रेफरी से सवाल जवाब करने के लिए गुस्से में अपने सुरक्षाकर्मियों के साथ मैदान के अंदर आ गए। उस वक्त इवान के पिछले पॉकेट में बंदूक रखी हुई थी, हालांकि उन्होंने रेफरी से बहस करने के दौरान बंदूक पॉकेट से नहीं निकाली, लेकिन उनके तीखे तेवर देखकर एईके एथेन की टीम सुरक्षा कारणों से मैदान के बाहर चली गई और वापस ही नहीं आई।

एईके के अधिकारियों ने इवान के ऊपर रेफरी को धमकाने का आरोप लगाया। इसके अलावा यह भी दावा किया गया कि इवान ने एईके के ऑपरेशन मैनेजर को भी धमकी दी। एईके का कहना है कि इस मामले में वह फीफा (FIFA) और यूईएफए को शिकायत करेंगे। वहीं फीफा का कहना है कि उसे इस घटना की जानकारी है और वह इस तरह के बर्ताव की कड़ी निंदा करते हैं।

पीएओके की ओर से इस मामले में बयान जारी कर कहा गया, ‘आज जो कुछ भी हुआ, पीएओके चेयरमैन इवान सैविडिस अपनी टीम को बचाने के लिए सभी जरूरी प्रक्रियाओं की तैयारी कर रहे हैं। इसके अलावा उनके ऊपर जो भी आरोप लगाए गए हैं उससे संबंधित प्रक्रियाओं के लिए भी वह तैयारी कर रहे हैं। इस मुद्दे पर जल्द ही ऐलान किया जाएगा।’ रविवार के इस मैच को बहस के दो घंटे के बाद रद्द कर दिया गया। एईके का कहना है कि मैदान का माहौल बहुत गंभीर हो गया था और ऐसे माहौल में मैच फिर से नहीं खेला जा सकता था। हालांकि रेफरी मैच को फिर से शुरू करने के पक्ष में थे। इससे पहले एईके के कोच मनोलो जिमेनेज कई बार मैच से संबंधित शिकायत कर रहे थे, जिसके बाद उन्हें 83वें मिनट में मैदान से बाहर कर दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App