पाकिस्तान में नहीं रहना चाहते मोहम्मद आमिर, मांगी ब्रिटिश नागरिकता

आमिर ने सितंबर, 2016 में एक ब्रिटिश नागरिक नरगिस मलिक से शादी की और पहले ही ‘स्पाउस वीजा’ के लिए आवेदन कर चुके हैं, जो उन्हें 30 महीने के लिए इंग्लैंड में रहने की अनुमति देता है।

संन्यास के बाद अब पाकिस्तान छोड़ना चाहते हैं अमीर, इस देश में बसने के लिए मांगी नागरिकता।(twitter/icc)

Mohammad Amir: 27 वर्ष की उम्र में टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने अपने इस फैसले से सबको चौंका दिया। शोएब अख्तर, वसीम अकरम और रमीज राजा जैसे दिग्गजों ने उनके इस फैसले की जमकर आलोचना की है। हालांकि आमिर पाकिस्तान के लिए वनडे और टी20 क्रिकेट खेलते रहेंगे। लेकिन पाकिस्तान के दैनिक समाचार ‘द ट्रिब्यून’ के मुताबिक आमिर पाकिस्तान छोड़ ब्रिटेन में बसना चाहते हैं। रिपोर्ट के मुकाबित आमिर भविष्य में इंग्लैंड में स्थायी रूप से बसने के लिए एक ब्रिटिश पासपोर्ट प्राप्त करने की योजना बना रहे हैं।

आमिर ने सितंबर, 2016 में एक ब्रिटिश नागरिक नरगिस मलिक से शादी की और पहले ही ‘स्पाउस वीजा’ के लिए आवेदन कर चुके हैं, जो उन्हें 30 महीने के लिए इंग्लैंड में रहने की अनुमति देता है। ‘स्पाउस वीजा’ मिलने के बाद आमिर ब्रिटेन में आजीविका के लिए काम भी कर सकते हैं और वहां मिलने वाले विभिन्न भत्तों का लाभ उठा सकेगा। इतना ही नहीं बाएं हाथ के तेज गेंदबाज भी लंदन में घर भी खरीदने वाले हैं ताकि स्थायी रूप से वहीं रह सकें। यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि आमिर ने पहले से ही ‘स्पाउस वीजा’ प्राप्त कर चुके हैं या नहीं, लेकिन उन्होंने स्पॉट फिक्सिंग कांड के चलते यूनाइटेड किंगडम की जेल में समय बिताया है। हालांकि सजा काटने के बाद कई बार आमिर ब्रिटेन जा चुके हैं। वहां उन्होंने काउंटी क्रिकेट भी खेला है। लिहाजा, ये भी मुमकिन है कि अच्छे बर्ताव को आधार मानते हुए फिक्सिंग मामला रोड़ा न बने। स्थायी निवास मिलने के बाद, आमिर पासपोर्ट के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

पाकिस्तान टीम इस तथ्य से अवगत हैं कि तेज गेंदबाज अब पाक के लिए खेलने में दिलचस्पी नहीं रखते हैं और इंग्लैंड और दुनिया भर में टी 20 लीग खेलना चाहते हैं। आमिर ने अपने किसी भी साथी को विश्व कप के तुरंत बाद टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के अपने इरादे के बारे में सूचित नहीं किया था। पाकिस्तान क्रिकेट टीम अपनी अगली टेस्ट सीरीज श्रीलंका के खिलाफ संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खेलेगा। सूत्रों के मुताबिक, आमिर इस बात से अवगत थे कि संयुक्त अरब अमीरात की पिच तेज़ गेंदबाज़ों के लिए मददगार नहीं होगी, इसलिए उन्होंने श्रृंखला से पहले टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

अपडेट