scorecardresearch

आईपीएल की विंडो को लेकर डरा पाकिस्तान, आईसीसी की बैठक में पीसीबी करेगा बीसीसीआई का विरोध

Ramiz Raza Not Resigned: रमीज राजा ने परोक्ष रूप से यह भी कहा कि वह पीसीबी के शीर्ष पद पर बने रहना चाहते हैं। लंबे समय से अटकलें चल रही हैं कि ऐसी संभावना है कि सरकार उन्हें बर्खास्त कर सकती है।

PCB Board of Governor approves Rs15 billion budget for 2022-23
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के बोर्ड ऑफ गवर्नर ने 2022-23 के लिए 15 अरब रुपए के बजट को मंजूरी दी। (सोर्स- पीसीबी)

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के लिए प्रस्तावित ढाई महीने की विस्तारित विंडो (अवधि) को चुनौती देने का फैसला किया है। पीसीबी अध्यक्ष रमीज राजा ने कहा कि आईसीसी के अगले सम्मेलन में इस मुद्दे को उठाया जाएगा। राजा ने शुक्रवार को लाहौर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘आईपीएल विंडो को बढ़ाने पर अब तक कोई घोषणा या फैसला नहीं हुआ है। मैं इस मुद्दे पर आईसीसी सम्मेलन में अपनी राय दूंगा। मेरी बात स्पष्ट है: अगर विश्व क्रिकेट में कोई विकास होता है, जिसका मतलब है कि हम पर भी इसका प्रभाव पड़ेगा। ऐसे में हम इसे बहुत ही जोरदार तरीके से चुनौती देंगे और आईसीसी में अपनी बात मजबूती से रखेंगे।’

पीसीबी के फैसले को आधिकारिक रूप से चुनौती देने का फैसला बीसीसीआई सचिव जय शाह के उस बयान पर आया है जिसमें उन्होंने समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए एक विशेष साक्षात्कार में कहा था कि भारतीय बोर्ड को 2024 से 2031 तक के आईसीसी के अगले एफटीपी (भविष्य दौरा कार्यक्रम) चक्र में आईपीएल के लिए एक विस्तारित विंडो मिलेगी।

जय शाह ने कहा था, ‘अगले एफटीपी चक्र से, आईपीएल के लिए ढाई महीने की आधिकारिक विंडो होगी ताकि सभी शीर्ष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हिस्सा ले सकें। हमने विभिन्न बोर्डों के साथ-साथ आईसीसी के साथ भी चर्चा की है।’ रमीज राजा ने यह भी कहा कि जहां पाकिस्तान भारत से खेलने का इच्छुक है, लेकिन दोनों पड़ोसी देशों के बीच राजनीतिक समीकरण अब भी बाधा बन रहे हैं।

रमीज राजा ने कहा, ‘मैंने एक कार्यक्रम के इतर इस पर सौरव (गांगुली) से बात की है। मैंने उनसे कहा कि वर्तमान में तीन पूर्व क्रिकेटर अपने क्रिकेट बोर्ड का नेतृत्व कर रहे हैं और अगर वे कोई फर्क नहीं ला सकते हैं तो कौन करेगा?’

उन्होंने कहा, ‘सौरव गांगुली ने मुझे पिछले साल और फिर इस साल दो बार आईपीएल का फाइनल देखने के लिए आमंत्रित किया था। मेरी समझ में क्रिकेट के लिहाज से वहां जाना अच्छा था, लेकिन मौजूदा परिस्थितियों में हमें निमंत्रण स्वीकार करने के नतीजों पर भी सोचना होता है।’

बर्खास्त किए जाने की अफवाहों को रमीज राजा ने किया खारिज

रमीज राजा ने परोक्ष रूप से यह भी कहा कि वह पीसीबी के शीर्ष पद पर बने रहना चाहते हैं। हालांकि, लंबे समय से अटकलें चल रही हैं कि ऐसी संभावना है कि सरकार उन्हें बर्खास्त कर सकती है। अटकलों के हिसाब से प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ जल्द ही रमीज की जगह पीसीबी चेयरमैन पर अपनी पसंद का व्यक्ति लायेंगे।

शाहबाज ने हाल ही में पीसीबी के तीन पूर्व चेयरमैन के साथ क्रिकेट के मामलों को लेकर बैठक भी की थी। इससे अटकलों का दौर और गरमा गया कि रमीज राजा को हटा दिया जाएगा। रमीज राजा ने कहा, ‘अब दो महीने हो गए हैं और हम अटकलों पर नहीं रह सकते। अगर कुछ होना होता तो अब तक हो गया होता। जब तक आप किसी को लगातार काम नहीं करने देंगे, पाकिस्तान क्रिकेट में कुछ सुधरने वाला नहीं है।’

उन्होंने कहा, ‘इसमें यहां अहं का कोई मुद्दा नहीं है। हम पाकिस्तान क्रिकेट को सुधारना चाहते हैं। अगर संविधान बदलाव करने की अनुमति देता है तो ठीक है, लेकिन परंपरा के कारण आपको अच्छे काम को खत्म नहीं करना चाहिए।’

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X