ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान के T20 वर्ल्ड कप जीत के हीरो का क्रिकेट को अलविदा, फेयरवेल स्पीच में रोने लगा दिग्गज गेंदबाज; देखें Video

उमर गुल की गिनती दुनिया के सफल गेंदबाजों में की जाती है। हालांकि, साल 2016 के बाद से उन्हें पाकिस्तानी टीम के लिए खेलने का मौका नहीं मिला।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: October 17, 2020 11:35 AM
UMAR GUL retireउमर गुल की गिनती दुनिया के कामयाब गेंदबाजों में होती है। हालांकि, 2016 के बाद से वह पाकिस्तानी टीम के लिए नहीं खेल पाए।

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज उमर गुल ने शुक्रवार को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया। उन्होंने पाकिस्तान की घरेलू लीग नेशनल टी20 कप का मैच खेल अपने करियर को विराम दिया। पाकिस्तान के इस दिग्गज तेज गेंदबाज को गार्ड ऑफ ऑनर के साथ सम्मनजनक विदाई दी गई। इस दौरान गुल बहुत भावुक हो गए। मैच के बाद वह फेयरवेल स्पीच के दौरान रोने लगे।

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने गुल की फेयरवेल स्पीच का वीडियो भी सोशल मीडिया पर शेयर किया है। गुल ने अपने विदाई भाषण में कहा, ‘थैंक्यू वेरी मच। हमारे जितने भी टीम साथी थे, आप लोगों को बहुत बहुत धन्यवाद। आपने मुझे इतना सम्मान दिया। सबसे पहले मैं पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को धन्यवाद देना चाहूंगा। पीसीबी ने मेरे पूरे करियर के दौरान एक मां की तरह मेरा पालन-पोषण किया। पीसीबी आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।’

बता दें कि उमर गुल ने पाकिस्तान को 2009 में टी20 वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ फाइनल मैच में चमारा सिल्वा का विकेट लेकर विपक्षी टीम की रफ्तार पर लगाम लगाई थी। यही नहीं, गुल आईसीसी 2009 टी20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। गुल ने उस टूर्नामेंट में 7 मैचों में 158 रन देकर 13 विकेट लिए थे। उन्होंने एक मैच में 6 रन देकर 5 विकेट भी झटके थे।

विदाई भाषण में गुल ने कहा, ‘मेरे जितने भी कोचेस, मेरे टीम मेट्स थे, मेरे जो सीनियर साथी थे, मेरे माता-पिता, विशेषकर मेरी पत्नी इन सभी ने मुझे पूरे करियर के दौरान बहुत सपोर्ट किया। इतना कहते-कहते गुल रोने लगे। फिर किसी तरह उन्होंने अपने आंसू रोक और बोला, तमाम पाकिस्तानियों का, जितने मेरे फैंस हैं पाकिस्तान में या पाकिस्तान से बाहर, आप लोगो ने मुझे काफी सपोर्ट किया। काफी दुआएं रहीं उन लोगों की।’

गुल ने कहा, ‘काफी मुश्किल होता है। लेकिन एक पैशन था। छोड़ना नहीं चाहता था, लेकिन यह है कि होता है एक दिन सबने जाना है। पूर्व में जितने भी हमारे स्टार रहे, लीजेंड रहे, सभी ने क्रिकेट को अलविदा कहा। यह एक प्रक्रिया है। इस प्रक्रिया के जरिए सबको गुजरना है।’

गुल ने कहा, ‘मेरे लिए मेरे क्लब, शहर और देश का हर स्तर पर नेतृत्व करना गर्व की बात है। मैंने क्रिकेट का काफी आनंद लिया। क्रिकेट की बदौलत मैंने मेहनत करना, इज्जत देना सीखा। इस सफर के दौरान मैं कई लोगों से मिला जिन्होंने मेरा सपोर्ट किया।’ गुल ने अपने करियर के दौरान कुल 987 विकेट लिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 IPL: जसप्रीत बुमराह के सामने कुंद पड़ जाती है आंद्रे रसेल के बल्ले की धार, सामना होने पर 50% बार किया शिकार
2 दिल्ली को पछाड़ मुंबई फिर टॉप पर, ट्रेंट बोल्ट भी शामिल हुए पर्पल कैप की रेस में
3 IPL Records: कोलकाता नाइटराइडर्स को हरा मुंबई इंडियंस ने रचा इतिहास, ट्रेंट बोल्ट ने पूरी की विकेटों की फिफ्टी
यह पढ़ा क्या?
X