ताज़ा खबर
 

आखिर क्यों भारत से मैच हारने के बाद एक दूसरे से नफरत करने लगे थे वसीम अकरम और वकार युनुस

क्रिकेट फैंस भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाले क्रिकेट मैच का बेसब्री से इंतजार करते हैं। दोनों देशों के साथ-साथ दुनिया के कई और देशों के लोगों की नजर इस मुकाबले पर रहती हैं।

पाकिस्तान की टीम भारत टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने आई थी।

क्रिकेट फैंस भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाले क्रिकेट मैच का बेसब्री से इंतजार करते हैं। दोनों देशों के साथ-साथ दुनिया के कई और देशों के लोगों की नजर इस मुकाबले पर रहती हैं। ऐसे में दोनों टीमों के खिलाड़ी अपना बेस्ट देने की कोशिश करते हैं। भारत-पाकिस्तान मैच हमेशा से ही रोमांचक भरा रहा है। कई बार छोटी-छोटी बातों को लेकर मैदान पर खिलाड़ी आपस में भिड़ भी जाते हैं। कुछ ऐसा ही हुआ था 1999 में खेले गए एक मैच में। दरअसल, पाकिस्तान की टीम भारत टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने आई थी। उस दौरान पाकिस्तान टीम के कप्तान तेज गेंदबाज वसीम अकरम थे। दिल्ली में खेले गए मैच के दौरान वकार युनुस काफी महंगे बॉलर साबित हुए थे। मैच के दोनों पारियों में उनके हाथ कोई विकेट नहीं लगी थी। इस बात से खफा होकर कप्तान वसीम अकरम कई बार उनसे मैदान ही झगड़ गए।

इस बात का जिक्र पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपनी ऑटोबायोग्राफी ‘कंट्रोवर्सियल योर्स’ में किया है। शोएब के मुताबिक जब टीम मैच हारने के बाद ड्रेसिंग रूम में गई तो वकार और वसीम एक-दूसरे की तरफ देखना भी नहीं चाहते थे। ड्रेसिंग रूम के भीतर काफी तनाव का माहौल पैदा हो गया। ऐसे में एशियन टेस्ट चैंपियनशिप के लिए वकार कतो टीम से बाहर करने की खबरें आने लगी।

हुआ भी कुछ ऐसा ही वकार की जगह वसीम ने टीम में शोएब अख्तर को शामिल कर लिया। वसीम ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि वह वकार से इस कदर नफरत करते थे कि वे दोनों एक दूसरे से बात तक नहीं करते थे। 2003 में जब वकार पाक टीम के कप्तान बने तो अकरम इंजमाम उल हक के सहारे उनसे बात किया करते थे। बता दें कि 2003 में ही इन दोनों गेंदबाजों ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App