ताज़ा खबर
 

वर्ल्ड कप से पहले पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने भारत को लेकर दिया बड़ा बयान

वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान के बीच रिकॉर्ड की बात करे, तो दोनों के बीच कुल 6 बार भिड़त हुई है, जिसमें हर बार भारत को जीत मिली है। इस बार भारत और पाकिस्तान वर्ल्ड कप में 16 जून को ओल्ड ट्रैफर्ड में भिड़ेंगे, जिस पर सभी फैंस की नजरें टिकी होंगी।

मोईन खान (Photo:AP)

क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट आईसीसी वर्ल्ड कप साल 2019 में इंग्लैंड और वेल्स में खेला जाना है। ऐसे में सभी टीमें टूर्नामेंट में की तैयारियों में जुट गई हैं। साल 2011 में भारत ने 28 साल बाद वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा था। ऐसे में भारत की नजर एक बार फिर से ये कारनामा दोहराने पर होगी। वैसे तो वर्ल्ड कप में हर मैच का अपना रोमांच होता है, लेकिन भारत-पाकिस्तान मैच के रोमांच की तुलना किसी और से नहीं की जा सकती है। वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान के बीच रिकॉर्ड की बात करे, तो दोनों के बीच कुल 6 बार भिड़त हुई है, जिसमें हर बार भारत को जीत मिली है।

इस बार भारत और पाकिस्तान वर्ल्ड कप में 16 जून को ओल्ड ट्रैफर्ड में भिड़ेंगे, जिस पर सभी फैंस की नजरें टिकी होंगी। एक तरफ जहां भारतीय टीम अपने जीत के रिकॉर्ड को बरकरार रखना चाहेगी। वहीं, पाकिस्तान का लक्ष्य इस टूर्नामेंट में पहली बार भारत के खिलाफ जीत दर्ज करने का होगा। इसी को लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोईन खान ने बड़ा बयान दिया है।

मोईन खान का मानना है कि मौजूदा टीम वर्ल्ड कप में हमेशा भारत से हारने का कलंक धोकर इंग्लैंड में होने वाले इस साल होने वाले वर्ल्ड कप में चिर प्रतिद्वंद्वी पर पहली जीत दर्ज कर सकती है। मोईन ने जीटीवी चैनल पर कहा, “मौजूदा टीम वर्ल्ड कप में भारत पर पहली जीत दर्ज कर सकती है क्योंकि यह काफी प्रतिभाशाली टीम है। इसमें गहराई और विविधता है और सरफराज अहमद का खिलाड़ियों से अच्छा तालमेल है।” वर्ल्ड कप 1992 और 1999 टीम के सदस्य रहे मोईन ने कहा कि उन्हें इस बार पाकिस्तान की जीत का यकीन है। उन्होंने कहा, “हमारी टीम ने दो साल पहले चैम्पियंस ट्रोफी में उन्हें हराया और इंग्लैंड में जून में हालात हमारे अनुकूल होंगे क्योंकि हमारे पास उनसे बेहतर गेंदबाज हैं। मोईन ने भारत और इंग्लैंड को वर्ल्ड कप के प्रबल दावेदारों में बताया। उन्होंने कहा, “यह दिलचस्प वर्ल्ड कप होगा और मुझे लगता है कि पाकिस्तानी टीम भारत को हरा देगी। हम साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ वनडे मैच खेलकर वर्ल्ड कप में जा रहे हैं।”

मोईन के बयान के इतर दोनों टीमों के बीच तुलना करे तो पाकिस्तान के लिए भारत को हराना टेड़ी खीर साबित हो सकता है। क्योंकि भारत की वनडे टीम इस समय दुनिया की सबसे मजबूत टीम है और वनडे रैंकिंग में भारत दूसरे नंबर पर है। वहीं पाकिस्तान 5वें नंबर पर है। इतना ही नहीं टॉप-20 वनडे गेंदबाजों में उनका सिर्फ एक तेज़ गेंदबाज़ हसन अली है। जबकि भारतीय टीम के टॉप-20 में भुवनेश्वर कुमार को मिलाकर कुल 4 गेंदबाज़ हैं। गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान के बीच 2015, 2011, 2003, 1999, 1996, 1992 में वर्ल्ड कप मुकाबला खेला गया था और हर बार टीम इंडिया ने जीत दर्ज की। वर्ष 2011 के आईसीसी वर्ल्डकप के सेमीफाइनल में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला हुआ था, जिसमें भारत ने पाकिस्तान को 29 रन से हराकर फाइनल में प्रवेश किया था और फिर खिताब भी अपने नाम किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App