ताज़ा खबर
 

PUBG टास्क के चक्कर में बच्चे लगा रहे थे मौत को गले; पाकिस्तान ने लगाया इस Online Game पर बैन

इस मल्टीप्लेयर गेम को दुनिया भर के खिलाड़ी एक-दूसरे या टीमों के खिलाफ खेल सकते हैं। खिलाड़ी खेल में एक-दूसरे पर हमला करते हैं और मारते हैं। जितना अधिक आप जीतते हैं, खेल में आपको उतनी ही हाई रैंक मिलती है।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: July 2, 2020 10:10 AM
PUBG Online Gameपबजी के कारण किशोरों द्वारा आत्महत्या करने के भारत में भी कई मामले सामने आए हैं।

पाकिस्तान ने बुधवार को अस्थायी रूप से लोकप्रिय ऑनलाइन गेम PUBG पर अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगा दिया। पाकिस्तान को शिकायतें मिली थीं कि बच्चों में इस खेल के प्रति नशे की लत थी। मीडिया रिपोर्ट्स में इसे क्रूर, मल्टीप्लेयर शूट से लेकर आत्महत्या के लिए उकसाने वाला तक करार दिया गया था। पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन अथॉरिटी (पीटीए) ने कहा है कि उसे लोगों से कई शिकायतें मिली हैं। उनमें कहा गया है कि जो भी इसे खेलते हैं उन बच्चों के शारीरिक और मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य पर गंभीर नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है।

इस मामले को लेकर हाई कोर्ट में 9 जुलाई को सुनवाई भी होनी है। पीटीए ने कहा कि हाई कोर्ट में सुनवाई होने (9 जुलाई) तक उसने इस खेल के लिए इंटरनेट एक्सेस को बैन कर दिया है। पाकिस्तान के डॉन अखबार ने पिछले महीने अपनी खबर में कहा था कि एक किशोर ने PUBG में दिए गए टास्क को पूरा नहीं कर पाने के बाद आत्महत्या कर ली थी। इसके बाद लाहौर पुलिस ने इस ऑनलाइन गेम (Online Game) पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश की थी।

dawn.com ने लिखा था कि 24 जून को 16 साल के एक लड़के ने हंजरवाल इलाके में अपने घर के छत के पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली थी, क्योंकि वह अपने PUBG मिशन को पूरा करने से चूक गया था। पुलिस ने पुष्टि की थी कि मोहम्मद जकारिया नाम के लड़के ने ऑनलाइन गेम खेलते समय अपने काम को पूरा नहीं करने पर ऐसा कदम उठाया था।

डॉनडॉटकॉम ने सदर डिवीजन के एसपी (ऑपरेशंस) गजनफर सैयद के हवाले से लिखा था, हमने लड़के के बिस्तर से उसका मोबाइल फोन बरामद किया था। हमने घटना की आगे की जांच के लिए तुरंत मोबाइल फोन को पंजाब फॉरेंसिक साइंस एजेंसी से संपर्क किया था।

लाहौर कैपिटल सिटी पुलिस ऑफिस के जुल्फिकार हमीद ने इस संबंध में संघीय जांच एजेंसी (FIA) और पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण (PTA) को पत्र भी लिखा है। इसमें उन्होंने इस ऑनलाइन गेम पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश की है। जुल्फिकार हमीद ने अपने पत्र में कहा था कि तीन युवाओं ने खेल की वजह से आत्महत्या की है। इस ऑनलाइन पर रोक लगाई जाए, ताकि कीमती जानें बचाई जा सकें।

समा न्यूज के मुताबिक, PUBG एक सर्ववाइल खेल है। इसमें खिलाड़ियों को दूसरों के खिलाफ युद्ध करने के लिए एक द्वीप पर गिरा दिया जाता है। इस गेम को एक दक्षिण कोरियाई कंपनी ने डेवलप्ड किया है।

इस मल्टीप्लेयर गेम को दुनिया भर के खिलाड़ी एक-दूसरे या टीमों के खिलाफ खेल सकते हैं। खिलाड़ी खेल में एक-दूसरे पर हमला करते हैं और मारते हैं। जितना अधिक आप जीतते हैं, खेल में आपको उतनी ही हाई रैंक मिलती है। दुनिया भर में अब तक इसे 34.2 मिलियन से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शशांक मनोहर का 2 साल के 2 कार्यकाल के बाद इस्तीफा, अगले हफ्ते शुरू होगी ICC के नए चेयरमैन को चुनने की प्रक्रिया
2 ‘वे चिल्ला रहे थे सकलैन तुम्हारी टांगें तोड़ देंगे, बेगम ने बचाई थी मेरी जान,’ पाकिस्तानी दिग्गज ने सुनाई वर्ल्ड कप हारने की दास्तां
3 हसीन जहां ने फिर कसा शमी पर तंज, नया VIDEO शेयर कर कहा- तू थक जाएगा, मैं बुझूंगी नहीं; लोग करने लगे ट्रोल
ये पढ़ा क्या?
X