scorecardresearch

Youth Boxing Championship: स्पेन में भारतीय मुक्केबाजों का दबदबा, 11 पदक किए अपने नाम; विश्वनाथ, वंशज और देविका का गोल्डन पंच

Indian boxers in Youth Championship: विश्वनाथ सुरेश ने भारत को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। देविका ने महिलाओं के 52 किग्रा और वंशज ने 63.5 किग्रा भार वर्ग में गोल्ड दिलाया।

Youth Boxing Championship: स्पेन में भारतीय मुक्केबाजों का दबदबा, 11 पदक किए अपने नाम; विश्वनाथ, वंशज और देविका का गोल्डन पंच
Youth World Boxing Championships 2022: स्वर्ण पदक विजेता वंशज, विश्वनाथ सुरेश, देविका घोरपड़े। (सोर्स: बीएफआई)

Youth Boxing Championship in Spain: स्पेन के ला नुसिया में आईबीए युवा पुरुष और महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप (IBA Youth World Boxing Championships 2022) में भारतीय मुक्केबाजों (Indian Boxers) का दबदबा देखने को मिला है। चैंपियनशिप में 73 देशों में 11 पदकों के साथ भारत नंबर-1 पर रहा है। रविवार को भारतीय मुक्केबाज (Indian Boxers) विश्वनाथ सुरेश (Vishwanath Suresh), वंशज (Vanshaj) और देविका घोरपड़े (Devika Ghorpade) ने शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीते।

चेन्नई में जन्में विश्वनाथ सुरेश (Vishwanath Suresh) ने इस प्रतिष्ठित चैंपियनशिप में भारत को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। उन्होंने पुरुषों के 48 किग्रा भार वर्ग के फाइनल में फिलीपींस के रोनेल सुयोम को हराकर सोने का तमगा हासिल किया। इसके बाद रिंग पर उतरी भावना शर्मा को महिलाओं के 48 किग्रा भार वर्ग में उज्बेकिस्तान की गुलसेवर गनीवा से 0-5 से हार के कारण रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

आशीष (54 किग्रा) रजत पदक हासिल करने वाले अन्य भारतीय थे। वह जापानी मुक्केबाज युता साकाई से 1-4 से हार गए। पुणे की रहने वाली देविका ने महिलाओं के 52 किग्रा फाइनल में इंग्लैंड की लॉरेन मैकी को हराकर भारत के खाते में दूसरा स्वर्ण पदक जोड़ा। युवा एशियाई चैंपियन वंशज ने भारत के लिए तीसरा स्वर्ण पदक हासिल किया।

भारत 11 पदकों के साथ शीर्ष पर (India on top with 11 medals)

सोनीपत के रहने वाले इस मुक्केबाज ने पुरुषों के 63.5 किग्रा भार वर्ग के फाइनल में जॉर्जिया के देमूर कजाया को आसानी से हराया। भारत 11 पदकों के साथ इस प्रतियोगिता में शीर्ष पर है। उसके बाद उज्बेकिस्तान (10), आयरलैंड (सात) और कजाकिस्तान (सात) का का नंबर आता है। इस साल चैंपियनशिप में 73 देशों के लगभग 600 मुक्केबाजों ने भाग लिया।

भारत ने महिला वर्ग में आठ पदक जीते (India won eight medals in the women’s section)

भारत ने महिला वर्ग में आठ पदक जीते जो कि रिकॉर्ड है। रवीना (63 किग्रा) और कीर्ति (81 किग्रा से अधिक) प्रतियोगिता के आखिरी दिन महिला वर्ग के फाइनल में भारत के खाते में दो और स्वर्ण पदक जोड़ सकती हैं। रवीना और कीर्ति क्रमशः नीदरलैंड की मेगन डेक्लेर और आयरलैंड की एलिजाबेथ डी आर्सी से भिड़ेंगी।

पढें अन्य स्पोर्ट्स (Othersports News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 26-11-2022 at 05:35:16 pm
अपडेट