ताज़ा खबर
 

महिला विश्व चैंपियनशिप में भारतीय मुक्केबाजों को कड़ा ड्रा, सबकी नज़रे एमसी मेरीकोम पर

पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मेरीकोम (51 किग्रा) बेहद प्रतिस्पर्धी विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के पहले दौर में यहां स्वीडन की जुलियाना सोडरस्ट्रोम से भिड़ेंगी।

Author स्ताना (कजाखस्तान) | May 19, 2016 00:28 am
ओलंपिक कांस्य पदक विजेता मैरीकोम। (पीटीआई फाइल फोटो)

पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मेरीकोम (51 किग्रा) बेहद प्रतिस्पर्धी विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के पहले दौर में यहां स्वीडन की जुलियाना सोडरस्ट्रोम से भिड़ेंगी। महिला मुक्केबाजों की ओलंपिक में तीन भार वर्गों 51 किग्रा, 60 किग्रा और 75 किग्रा के लिए यह अंतिम क्वालीफाईंग टूर्नामेंट भी है। इसमें ओलंपिक के 12 टिकट दांव पर लगे होंगे। इन तीनों भार वर्गों में क्वालीफाई करने के लिए मुक्केबाज को कम से कम सेमीफाइनल तक पहुंचना होगा। मेरीकोम के अलावा जिन अन्य भारतीयों की निगाह ओलंपिक में जगह बनाने पर टिकी रहेगी उनमें एल सरिता देवी (60 किग्रा) और पूजा रानी (75 किग्रा) शामिल हैं। उम्मीद के अनुरूप इन तीनों भार वर्ग में सबसे अधिक मुक्केबाज भाग ले रहे हैं। लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता मेरीकोम की निगाह छठे स्वर्ण पदक पर होगी। वह और एशियाई खेलों की रजत पदक विजेता सरिता गुरुवार को रिंग पर उतरेंगी। सरिता का मुकाबला बेलारूस की अला यार्शविच से होगा। दूसरी तरफ पूजा को पहले दौर में बाई मिली है और वह 20 मई को उक्रेन की मारिया बोरूस्ता से भिड़ेगी।

गैर ओलंपिक वर्ग में पिछली बार की रजत पदक विजेता एस सरजूबाला (48 किग्रा) को दूसरी वरीयता दी गई है। पूर्व जूनियर विश्व चैंपियन निखत जारीन 54 किग्रा में 20 मई को ऑस्ट्रेलिया की बियान्सा अल मीर का सामना करेगी। पवित्रा (64 किग्रा) को भी दूसरी वरीयता दी गई है और उनका सामना ऑस्ट्रेलिया की स्काई निकोलसन और क्रोएशिया की एंतोनिया पाविच से होगा। स्वीटी (81 किग्रा) तीसरी भारतीय हैं जिन्हें वरीयता दी गई है। उन्हें दूसरी वरीयता दी गई है और उनका मुकाबला बेलारूस विक्टोरिया केबिकावा से होगा। सोनिया लाथर (57 किग्रा) का सामना मंगोलिया की गुंडेगमा म्यागमार जबकि मीना रानी (69 किग्रा) का जर्मनी की नादिन अपेट्ज से होगा। सीमा पूनिया (81 किग्रा से अधिक) 23 मई को अजरबेजान की अयनूर रजायेवा से भिड़ेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App