ताज़ा खबर
 

यूएस ओपन: सेरेना विलियम्स का सपना टूटा, केरबर नंबर वन बनकर फाइनल में

स्टेफी ग्राफ के आखिरी बार 1996 में यूएस ओपन फाइनल में पहुंचने के बाद केरबर पहली जर्मनी खिलाड़ी हैं जो यहां खिताबी मुकाबले में पहुंची हैं।

Author न्यूयॉर्क | September 9, 2016 1:24 PM
US Open 2016: सेमाफाइनल में कारोलिना वोजनियाकी को हराने के बाद जीत के बाद खुशी जाहिर करतीं जर्मनी की एंजेलिक केरबर। (Robert Deutsch-USA TODAY Sports/8 Sep 2016)

सेरेना विलियम्स सेमीफाइनल में कारोलिना पिलिसकोवा से हारकर यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट से बाहर हो गई जिससे उनका 23वां ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने और लगातार 187 सप्ताह तक नंबर एक बने रहने के रिकॉर्ड को अपने नाम करने का सपना टूट गया। सेरेना की जगह जर्मनी की एंजेलिक केरबर अब दुनिया की नंबर एक महिला खिलाड़ी होंगी। उन्होंने फाइनल में पहुंचकर अपने पहले यूएस ओपन खिताब की उम्मीदें भी जगा दी हैं। चेक गणराज्य की दसवीं वरीयता प्राप्त पिलिसकोवा ने सेरेना को 6-2, 7-6 से हराया। फाइनल में उन्हें केरबर से भिड़ना होगा जिन्होंने एक अन्य मैच में कारोलिना वोजनियाकी को 6-4, 6-3 से पराजित किया।

स्टेफी ग्राफ के आखिरी बार 1996 में यूएस ओपन फाइनल में पहुंचने के बाद केरबर पहली जर्मनी खिलाड़ी हैं जो यहां खिताबी मुकाबले में पहुंची हैं। यही नहीं जब सोमवार (5 सितंबर) को नई विश्व रैंकिंग जारी होगी तो वह नंबर एक बनने वाली दूसरी जर्मन खिलाड़ी भी बन जाएंगी। उनसे पहले जर्मनी से केवल ग्राफ ने ही यह उपलब्धि हासिल की थी। सेट गंवाए बिना फाइनल में पहुंचने वाली केरबर ने कहा, ‘फाइनल में पहुंचना और विश्व की नंबर एक खिलाड़ी बनना अविश्वसनीय है। यह शानदार दिन था।’

सेरेना को हराने वाले पिलिसकोवा इससे पहले पिछले 17 अवसरों पर किसी ग्रैंडस्लैम में तीसरे दौर से आगे नहीं पहुंच पाई थी। उन्होंने कहा, ‘मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा है। मुझे पता था कि यदि मैं अपना नैसर्गिक खेल खेलती हूं तो किसी को भी हरा सकती हूं। मैं फाइनल में पहुंचकर और सेरेना जैसी चैंपियन को हराने से उत्साहित हूं।’ सेरेना यदि खिताब जीतने में सफल रहती तो वह ग्राफ के सर्वाधिक 187 सप्ताह तक लगातार नंबर एक बने रहने के रिकॉर्ड को भी अपने नाम कर देती। इस अमेरिकी खिलाड़ी ने कहा कि टूर्नामेंट के शुरू से ही उन्हें घुटने के दर्द से जूझना पड़ा था लेकिन पिलिसकोवा ने भी शानदार प्रदर्शन किया।

उन्होंने कहा, ‘कारोलिना ने आज बेहतरीन टेनिस का प्रदर्शन किया। यदि वह थोड़ा भी ढीला खेल दिखाती तो मेरे पास मौका रहता। मैं अपना शत प्रतिशत नहीं दे पायी लेकिन मेरा मानना है कि उसने भी बहुत अच्छा खेल दिखाया। वह आज जीत की हकदार थी।’ सेरेना का इस हार से ओपन युग में सर्वाधिक ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने का नया रिकॉर्ड बनाने का इंतजार भी बढ़ गया। अभी उनके और ग्राफ के नाम पर समान 22 खिताब दर्ज हैं।

पिलिसकोवा ने फाइनल के सफर में चौथे दौर में सेरेना की बड़ी बहन वीनस के खिलाफ एक मैच प्वाइंट बचाया था। सेरेना के खिलाफ दूसरे सेट के टाईब्रेकर में 3-0 से आगे होने के बाद उन्होंने तीन गलतियां की जिनमें एक डबल फॉल्ट भी है। सेरेना पहले 4-3 और फिर 5-4 से आगे थी। पिलिसकोवा ने हालांकि सेरेना के छठे डबलफॉल्ट का फायदा उठाकर मैच अपने नाम किया। पिलिसकोवा को अपनी तीखी सर्विस के लिए जाना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App