ताज़ा खबर
 

Video: रियो पैरा ओलंपिक में भारत की ‘दाल रोटी’ को सबसे ज्यादा मिस कर रहा है यह खिलाड़ी

रियो में इस वक्त पैरा ओलंपिक चल रहे हैं। ऐसे में वहां भाग लेने गए भारतीय खिलाड़ियों को घर के खाने की याद बहुत सता रही है।

Author September 10, 2016 3:19 PM
पैरा ओलंपिक में गए भारतीय खिलाड़ी रोटी और दाल को काफी मिस कर रहे हैं। (Source: Rampal Chahar/Twitter)

रियो में इस वक्त पैरा ओलंपिक चल रहे हैं। ऐसे में वहां भाग लेने गए भारतीय खिलाड़ियों को घर के खाने की याद बहुत सता रही है। उसी खाने का जिक्र वहां गए खिलाड़ी रामपाल छहर ने किया। 27 साल के रामपाल ने वहां एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि वह रियो में अपने घर की रोटियां काफी मिस कर रहे हैं। रामपाल हाई जंप के खिलाड़ी हैं। वह हरियाणा के सोनिपत गांव से हैं। ब्राजील में दिए गए एक इंटरव्यू में रामपाल ने कहा, ‘मैं अपने इंडिया को मिस कर रहा हूं। काफी चीजें हैं जो या नहीं हैं। यहां मैदा की रोटी हैं जो खाई नहीं जाती। दाल है लेकिन उसमें मसाला नहीं है। लेकिन हम काम चला रहे हैं।

शनिवार (10 सितंबर) को रियो पैरालंपिक खेलों के ऊंची कूद स्पर्धा में मरियप्पन थांगावेलू ने गोल्ड पर कब्जा जमाते हुए इतिहास रच दिया था। पैरा ओलंपिक में यह भारत का पहला ओलंपिक गोल्ड है। वरुण भाटी ने इसी प्रतिस्पर्धा में कांस्य पदक जीतकर भारत को दोहरी खुशी दी। इस प्रतिस्पर्धा का रजत पदक अमेरिका के सैम ग्रेवी को मिला। उधर, भारत के ही संदीप भाला फेंक स्पर्धा का कांस्य पदक जीतने से चूक गए और वह चौथे स्थान पर रहे।

इस खेलों की तैयारी में कई अड़चने भी सामने आईं थी। ब्राजील की सरकार को इस खेलों के आयोजन के लिए आपातकालीन ऋण की व्यवस्था करनी पड़ी थी। अंतरराष्ट्रीय पैरालंपिक समिति (आइपीसी) के अध्यक्ष फिलिप क्रावेन ने कहा था कि पैरालंपिक खेलों के आयोजन में कई बाधाओं का सामना करना पड़ा है। जिसमें बजट में कटौती, टिकटों की बिक्री में कमी और ब्राजील में पिछले कई दशकों में सबसे खराब मंदी का दौर भी शामिल है। पेरा ओलंपिक के यह खेल 18 सितंबर तक चलने वाले हैं। भारत की तरफ से अबतक का सबसे बड़ा दल ओलंपिक के लिए भेजा गया है। भारत ने 19 खिलाड़ियों को भेजा है। ये वहां चल रहे 10 प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेंगे। गौरतलब है कि 18 सितंबर तक चलने वाले पैरालंपिक खेलों में दो शरणार्थियों सहित 4,344 एथलीट हिस्सा ले रहे हैं। जबकि 154 देशों में इसका लाइव प्रसारण किया जा रहा है। पैरालिंपिक्स की शुरुआत 1948 में हुई थी। इसकी सबसे कामयाब खिलाड़ी त्रिशा ज़ोर्न हैं, उन्होंने कुल 55 मेडल जीते, जिनमें 41 स्वर्ण पदक शामिल हैं।

Read Also: रियो पैरा ओलंपिक खेल 2016: Google ने बनाया खिलाड़ियों वाला डूडल, देखने के लिए क्लिक करें

https://twitter.com/RampalChahar/status/773857144114327553

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App