ताज़ा खबर
 

पीडब्ल्यूएल नीलामी में होगा कई दिग्गज पहलवानों के भाग्य का फैसला

नीलामी में रियो ओलंपिक में भाग ले चुके 55 पहलवानों के किस्मत का फैसला होगा।

Author नई दिल्ली | December 15, 2016 8:19 PM
ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने के बाद भारत की महिला पहलवान साक्षी मलिक। (पीटीआई फाइल फोटो)

ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक सहित भारत के 92 पहलवानों के अलावा ओलंपिक और विश्व चैम्पियनशिप के करीब 30 मौजूदा पदक विजेता प्रो कुश्ती लीग (पीडब्ल्यूएल) के दूसरे सत्र के लिये शुक्रवार (16 दिसंबर) को होने वाली नीलामी में हिस्सा लेंगे। इस बार नीलामी में जिन खिलाड़ियों को खरीदने के लिये फ्रेंचाइजी टीमों के बीच होड़ रहेगी उनमें ओलंपिक चैम्पियन कनाडा की एरिका वीब्स और जॉर्जिया के व्लादीमिर खिनचेंगशिविली भी शामिल हैं। नीलामी में रियो ओलंपिक में भाग ले चुके 55 पहलवानों के किस्मत का फैसला होगा। भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने बताया कि इस बार नीलामी में करीब 200 देसी और विदेशी खिलाड़ी भाग ले रहे हैं जिनमें दुनिया भर से आए 107 विदेशी और 92 भारतीय खिलाड़ी शामिल हैं। उन्होंने कहा, ‘इस बार जॉर्जिया के व्लादीमिर खिनचेंगशिविली, अजरबेजान के अलीयेव हाजी और यूक्रेन की ओक्साना हरहेल के रूप में तीन विश्व चैम्पियन जहां मुख्य आकर्षण होंगे वहीं एरिका वीब्स और व्लादीमिर के रूप में दो ओलिम्पिक चैम्पियन इस आयोजन में चार चांद लगाएंगे।’ रियो ओलिम्पिक में रजत पदक जीतने वाली बेलारूस की मारिया मामाशुक, रियो की ही कांस्य पदक विजेता ट्यूनीशिया की मारवा अमरी, अजरबेजान की यूलिया राटकेविच और 63 से 58 किलो में लौटीं यूक्रेन की यूलिया काश नीलामी में महिलाओं के 58 किग्रा भार वर्ग में साक्षी मलिक और गीता फोगाट सहित 10 भारतीय खिलाड़ियों को कड़ी टक्कर दे सकती हैं। राटकेविच और यूलिया काश मौजूदा विश्व चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता हैं।

वहीं रियो की कांस्य पदक विजेता और विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में जगह बनाने वाली स्वीडन की सोफिया मैटसन, विश्व चैम्पियनशिप की कांस्य विजेता और पहले सत्र की स्टार ‘डांसिंग गर्ल’ नाइजीरिया की ओडुनायो और यूक्रेन की तात्याना किट नीलामी में ओलिम्पियन बबीता सहित 12 भारतीय खिलाड़ियों के लिए चुनौती पेश करेंगी। महिलाओं के 48 किग्रा में रितु फोगाट सहित सात भारतीय खिलाड़ियों के रास्ते में तीन बार की ओलिम्पिक पदक विजेता अजरबेजान की मारिया स्टैडनिक और रियो की कांस्य पदक विजेता बुल्गारिया की एलिस्ता यानकोवा होंगी। इस वजन वर्ग में सात भारतीय खिलाड़ी भी हैं। महिलाओं के सुपर हैवीवेट वर्ग में कनाडा की एरिका वीब, रियो की कांस्य पदक विजेता स्वीडन की जेनी फ्रेनसन और विश्व चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता बेलारूस की वैसिलसा मारजाल्यूक अन्य आकर्षण होंगी। वहीं पुरुष वर्ग में लंदन ओलिम्पिक के कांस्य पदक विजेता और एशियाई खेलों के मौजूदा चैम्पियन योगेश्वर दत्त सहित एशियाई चैम्पियन संदीप तोमर, विश्व चैम्पियनशिप के पूर्व पदक विजेता बजरंग और अमित दहिया तथा राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता सत्यव्रत कादियान पर फ्रेंचाइजी टीमों की नजरें रहेंगी। विदेशी खिलाड़ियों में ओलिम्पिक और विश्व चैम्पियन जार्जिया के व्लादीमिर खिनचेंगशिविली, रियो ओलंपिक के रजत पदक विजेता अजरबेजान के तोरगुल असगारोव और विश्व चैम्पियन अलीयेव हाजी मुख्य आकर्षण होंगे। खिलाड़ियों की नीलामी प्रक्रिया का आयोजन बॉब हेटन करेंगे, जो इससे पहले बैडमिंटन, हॉकी और पीडब्ल्यूएल के पहले सत्र की नीलामी सफलतापूर्वक कर चुके हैं। उन्हें नीलामी प्रक्रिया का 35 साल का लम्बा अनुभव है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App