ताज़ा खबर
 

जैशा ने खुद किया था विशेष ड्रिंक लेने से इनकार: कोच

जैशा से उन्होंने पूछा था कि क्या उन्हें किसी तरह की विशेष रिफ्रेशमेंट की जरूरत है तो उन्होंने इनकार किया था।

Author August 26, 2016 02:49 am
भारतीय मैराथन रनर ओपी जैशा। (फाइल फोटो)

ओपी जैशा के आरोपों के बाद शुरू हुए विवाद ने एक दिलचस्प मोड़ ले लिया है। उनके निजी कोच निकोलई स्नेसारेव ने गुरुवार को माना कि इस मैराथन धाविका ने खुद कहा था कि उसे रियो ओलंपिक में रेस के दौरान किसी तरह के विशेष रिफ्रेशमेंट की जरूरत नहीं है। बेलारूस के निकोलई ने कहा कि जब जैशा से उन्होंने पूछा था कि क्या उन्हें किसी तरह की विशेष रिफ्रेशमेंट की जरूरत है तो उन्होंने इनकार किया था। उन्होंने कहा कि जैशा के साफ तौर से मना करने के बाद ही मैंने भारतीय एथलेटिक्स अधिकारियों से कहा था कि उन्हें रेस के दौरान किसी विशेष रिफ्रेशमेंट की जरूरत नहीं है।

राष्ट्रीय रेकार्डधारी जैशा ने आरोप लगाया था कि भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के अधिकारियों ने कड़ी गर्मी में आयोजित रेस के दौरान पानी और एनर्जी ड्रिंक की व्यवस्था नहीं की जिसके कारण दौड़ पूरी करने के बाद वे बेहोश गई थीं। उन्होंने कहा कि इस कारण वे लगभग मरते मरते बचीं। लेकिन एएफआइ के अधिकारियों ने इस बात से इनकार किया।  निकोलई ने कहा कि जैशा ने कभी भी मैराथन स्पर्धा के दौरान विशेष ड्रिंक नहीं लिया। उन्होंने बंगलुरु स्थित साई केंद्र से कहा कि रेस से एक दिन पहले राधाकृष्णन नायर (मुख्य कोच के सहायक) ने मुझे पूछा था कि क्या उसे जैशा को रेस के लिए कोई विशेष रिफ्रेशमेंट या ड्रिंक की जरूरत होगी। मैंने जैशा से पूछा कि क्या वह विशेष ड्रिंक लेगी या सामान्य पानी लेगी जो आयोजकों द्वारा मुहैया कराया जाएगा। उसने कहा कि वह सामान्य पानी ही लेगी। इसके बाद मैंने नायर से कहा कि वह सिर्फ पानी ही लेगी। यही हुआ।

निकोलई ने कहा कि जैशा ने ओलंपिक की तैयारियों के शुरू में कभी भी प्रतियोगिताओं के दौरान विशेष ड्रिंक का इस्तेमाल नहीं किया और वह केवल सामान्य पानी के साथ ही दौड़ती थी। उन्होंने पिछले साल अगस्त में बेजिंग में विश्व चैंपियनशिप के दौरान आयोजकों द्वारा मुहैया कराए गए सामान्य पानी का ही इस्तेमाल किया था। यह पूछने पर कि रियो में रेस आयोजकों ने पर्याप्त पानी का इंतजाम किया था तो निकोलई ने संकेत दिया कि ऐसा नहीं था। उन्होंने कहा कि मैं रेस में नहीं दौड़ा था और मैं पूरे 42 किमी तक जैशा के साथ भी नहीं रहा था।

मैं कैसे बता सकता हूं? निकोलई ने कहा- लेकिन मैंने रेस में भाग लेने वाले कुछ धावकों से बात की जो करीब 70वें स्थान पर रहे और 157 धावकों में काफी नीचे थे और उनके कोच से भी। उन्होंने कहा कि पानी था लेकिन 25 से 30 किमी की दूरी पर यह पर्याप्त नहीं था।
उन्होंने जो कुछ कहा, मेरे पास उसकी पुष्टि करने का कोई तरीका नहीं था। उन्होंने कहा कि मैंने रेस के बाद जब जैशा से बात की तो उसने भी यही बात कही कि कोर्स के दूसरे हिस्से में करीब 25 से 30 किमी तक पर्याप्त पानी मौजूद नहीं था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App