ताज़ा खबर
 

सही दिशा में बढ़ रही है भारतीय हॉकी टीम, लेकिन रियो में पदक तय नहीं: रासकिन्हा

भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान वीरेन रासकिन्हा ने कहा, ‘यदि ऑस्ट्रेलिया को छोड़ दें तो अभी हमारी टीम दुनिया की किसी भी टीम को हराने में सक्षम है।'

Author मुंबई | June 16, 2016 4:21 PM
India vs Australia, live Hockey Final, Champions Trophy: भारतीय हॉकी टीम (फाइल फोटो)

भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान वीरेन रासकिन्हा ने गुरुवार (16 जून) को यहां कहा कि भारतीय हॉकी टीम सही दिशा में आगे बढ़ रही है लेकिन वह पदक जीतने में सफल रहेगी इसका दावा नहीं किया जा सकता है। स्टार स्पोर्ट्स के ओलंपिक पैनल में शामिल रासकिन्हा ने संवाददाताओं से कहा, ‘हॉकी टीम पिछले कुछ वर्षों से अच्छा प्रदर्शन कर रही है। हमारी महिला टीम ने 1980 के बाद पहली बार ओलंपिक में जगह बनायी है जो बड़ी उपलब्धि है। जहां तक पुरुष टीम का सवाल है तो वह पिछले एक साल से लगातार बेहतर खेल दिखा रही है।’

उन्होंने कहा, ‘चैंपियन्स ट्रॉफी में भी अभी तक उसका प्रदर्शन अच्छा रहा है। टीम सही दिशा में आगे बढ़ रही है लेकिन उसे सहज होने की जरूरत नहीं है और निरंतर ता बनाये रखनी होगी। यह अच्छी बात है कि खिलाड़ी एक दूसरे की मदद कर रहे हैं और परिस्थितियों से बेहतर सामंजस्य बिठा रहे हैं।’

ओलंपिक में भारतीय टीम की संभावना के बारे में रासकिन्हा ने कहा, ‘हम पदक का दावा नहीं कर सकते हैं लेकिन टीम से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है। यदि टीम रियो में अच्छा खेल दिखाती है तो यह भारतीय हॉकी के लिए अच्छा होगा। इससे इस खेल को लोकप्रियता मिलेगी।’

उन्होंने कहा, ‘यदि ऑस्ट्रेलिया को छोड़ दें तो अभी हमारी टीम दुनिया की किसी भी टीम को हराने में सक्षम है। चैंपियन्स ट्रॉफी में उसने ब्रिटेन, बेल्जियम और जर्मनी को कड़ी टक्कर दी है। महत्वपूर्ण निरंतरता बनाए रखना है। आपको नौ दस दिन में छह सात मैच खेलने होते हैं और उनमें यदि आपने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर दिया तो फिर अनुकूल परिणाम मिलने की संभावना बढ़ जाती है।’

रासकिन्हा ने कहा कि भारत को अभी धनराज पिल्ले जैसे कुछ रोल माडल की जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘मैं धनराज के साथ खेला हूं। उन जैसे खिलाड़ियों के होने से नए खिलाड़ी प्रेरित होते हैं। भारत को अभी कुछ और रोल माडल चाहिए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App