ताज़ा खबर
 

21 साल में पहली बार चीन से दोस्ताना मैच खेलेंगे इंडियन फुटबॉलर, एशियन कप की तैयारी

भारतीय फुटबाल टीम 21 साल में पहली बार चीन के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैच खेलेगी। भारत 2019 एशियन कप की तैयारी के लिये अक्तूबर में यह दोस्ताना मुकाबला खेलेगी।

Author July 20, 2018 6:18 PM
भारतीय फुटबाल टीम 21 साल में पहली बार चीन के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैच खेलेगी।

भारतीय फुटबाल टीम 21 साल में पहली बार चीन के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैच खेलेगी। भारत 2019 एशियन कप की तैयारी के लिये अक्तूबर में यह दोस्ताना मुकाबला खेलेगी।
अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) ने आज सीनियर राष्ट्रीय टीम के इस मैच की पुष्टि की। भारत की 97वीं रैकिंग वाली टीम 75वीं रैकिंग वाली चीन से आठ से 16 अक्तूबर तक फीफा विंडो के तहत मैच खेलेगी। दोस्ताना मैच की तारीख बाद में तय की जायेगी लेकिन एआईएफएफ ने 13 अक्तूबर का प्रस्ताव रखा है। भारत और चीन अब तक 17 बार एक दूसरे से खेल चुके हैं जिनमें से आखिरी मैच 21 साल पहले 1997 में कोच्चि में नेहरू कप के दौरान खेला गया था। ये सभी मैच भारतीय सरजमीं पर खेले गये थे, पर पहली बार दोनों के बीच मुकाबला चीन में खेला जा रहा है।

भारत की अंडर 16 राष्ट्रीय टीम ने हाल ही में चीन का दौरा करके चार देशों का आमंत्रण टूर्नामेंट खेला था। भारतीय टीम अभी तक चीन के खिलाफ एक भी मैच नहीं जीत सकी है। पिछले 17 मैचों में से 12 चीन ने जीते जबकि पांच ड्रा रहे। एआईएफएफ महासचिव कुशल दास के अनुसार भारतीय टीम सऊदी अरब के खिलाफ भी खेल सकती है जो महाद्वीप की एक और ऊंची रैकिंग की टीम है।

भारतीय कप्तान सुनील छेत्री ने बार बार मजबूत और ऊंची रैकिंग की टीमों के खिलाफ खेलने पर जोर दिया है। हाल में मुंबई में चार देशों के टूर्नामेंट में भी इस करिश्माई स्ट्राइकर ने टीम की खिताबी जीत में अहम भूमिका निभायी थी। कुशल दास ने कहा, ‘‘हमें खुशी है कि चीनी एफए के साथ एक महीने तक चली चर्चा के बाद यह मुकाबला तय हुआ और मैं हमारे प्रबंधन साझीदार एफएसडीएल का शुक्रिया करता हूं।

वहीं राष्ट्रीय कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन ने इस मुकाबले के आयोजन पर संतोष जताते हुए कहा, ‘‘एशियन कप की तैयारियों को ध्यान में रखते हुए कोच के तौर पर मुझे खुशी है कि हम चीन जैसे मजबूत प्रतिद्वंद्वी से खेलेंगे। मुझे पूरा भरोसा है कि लड़के इस मौके का पूरा फायदा उठायेंगे और एएफसी टूर्नामेंट से पहले खुद को परखना चाहेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App