ताज़ा खबर
 

बोल्ट-साउदी की गेंदों से चकराए भारतीय

इंग्लैंड में 2014 और 2018 के बाद न्यूजीलैंड की पिच पर कप्तान विराट कोहली की सेना ढेर हो गई। इससे यह भी साबित हो गया, टीम कागजों में चाहे जितने रेकार्ड तोड़ ले, स्विंग और सीम के सामने उसकी एक नहीं चलती।

भारत और न्यूजीलैंड के बीच टैस्ट मैच के दौरान भारतीय कप्तान विराट कोहली और टिम साउदी।

सितारों से सजी भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने अनुशासित प्रदर्शन से कागजी शेर साबित कर दिया। एकदिवसीय के बाद दो टैस्ट मैचों की शृंखला में 2-0 से हरा कर कीवियों ने शीर्ष टीम को धरती पर पटक दिया। इंग्लैंड में 2014 और 2018 के बाद न्यूजीलैंड की पिच पर कप्तान विराट कोहली की सेना ढेर हो गई। इससे यह भी साबित हो गया, टीम कागजों में चाहे जितने रेकार्ड तोड़ ले, स्विंग और सीम के सामने उसकी एक नहीं चलती। हालात ये रहे कि दो मैचों की चार भारतीय पारियोंं में सिर्फ चार अर्धशतक लगे। ट्रेंट बोल्ट और टिम साउदी ने भारतीय बल्लेबाजों को पूरी तरह कब्जे में रखा। नतीजा रहा कि इन दोनों की जोड़ी ने कीर्तिमान रचा। मैच में 14 विकेट चटकाने वाली यह जोड़ी अब नई गेंद फेंकने वालों की सूची में तीसरी सबसे सफल जोड़ी बन गई है।

टीम साउदी सफेद गेंद के मुकाबले में बेहतर नहीं कर पा रहे थे। वहीं बोल्ट भी चोट से उबरने के बाद वापसी कर रहे थे। लेकिन इस जोड़ी ने जिस तरह से गेंदबाजी की वह काबिलेतारीफ है। इस मुकाबले से इतर भी इस जोड़ी ने न्यूजीलैंड को कई मैचोंं में जीत दिलाई है। आंकड़ों की ओर देखें तो बोल्ट-साउदी ने नई गेंद से शुरुआत करते हुए कुल 426 खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा है। यानी कि उन्होंने वेलिंगटन में अपने प्रदर्शन से वेस्ट इंडीज की धाकड़ गेंदबाजी जोड़ी कर्टनी वाल्श और कर्टली एंब्रोस को पीछे छोड़ दिया। वाल्श और एंब्रोस ने नई गेंद से जोड़ी बनाते हुए 412 विकेट हासिल किए थे। न्यूजीलैंड के लिए इन दोनों की संयुक्त कामयाबी इस मायने में भी खास है कि इस जोड़ी में किसी एक का योगदान ज्यादा या कम नहीं है। बोल्ट के नाम 214 तो साउदी के नाम 212 विकेट हैं।

घरेलू मैदान पर तो इस जोड़ी के जलवे
इंग्लैंड के स्टूअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन को छोड़ दें तो घरेलू माहौल का फायदा सबसे ज्यादा इसी जोड़ी ने उठाया है। बोल्ट और साउदी ने अब तक जिन घरेलू मैचों में साथ खेलते हुए नई गेंद थामी है उसमें उम्दा प्रदर्शन किया है। बोल्ट ने जहां 131 विकेट घरेलू मैच में हासिल किए वहीं साउदी ने 125 विकेट बोर्ड पर टांगे। यानी इन दोनों ने 24.30 के औसत से कुल 256 विकेट चटकाए हैं। ब्रॉड और एंडरसन इस मामले में काफी आगे हैं। उनके नाम 470 विकेट हैं।

विदेशों में भी बेहतर करें तो बने बात
स्विंग और सीम से भारतीय बल्लेबाजों की पोल खोलने वाली बोल्ट और साउदी की जोड़ी के साथ भी घरेलू मैदान पर ही जलवा दिखाने का तमगा जुड़ा है। इस जोड़ी ने अब तक जो बेहतरीन प्रदर्शन किए हैं वो ज्यादातर घरेलू मैदान पर किए गए। वेलिंगटन में 206 रन खर्च कर 14 विकेट हासिल करने से पहले 2018 में ऑकलैंड में इस जोड़ी ने इंग्लैंड के खिलाफ 210 रन देकर 14 विकेट लिए थे। 2018 के अन्य मैच में बांग्लादेश के खिलाफ बोल्ट और साउदी की जोड़ी ने 203 रन पर 14 विकेट अपने खाते में जोड़े थे लेकिन वह भी क्राइस्टचर्च का मैदान था। 2012 में आखिरी बार इस जोड़ी ने कोलंबो में श्रीलंका के खिलाफ 195 रन देकर 15 विकेट अपने नाम किए थे। इस लिहाज से न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन की दिली इच्छा होगी कि ये जोड़ी एक बार फिर विदेशी पिच पर अपनी गेंदबाज से प्रभावित करे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 India vs England Women’s T20 World Cup 2020 Semi-Final 1: भारत ने रचा इतिहास, पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा
2 South Africa vs Australia Women: दक्षिण अफ्रीका ने गेंदबाजी चुनी, ऑस्ट्रेलिया ने किए टीम में बदलाव
3 बारिश बनी भारत के लिए वरदान, इंग्लैंड को बिना हराए ही फाइनल में पहुंचा
यह पढ़ा क्या?
X