ताज़ा खबर
 

जोश में होश खो बैठे फैंस, विराट कोहली के वैक्स स्टैचू का तोड़ दिया कान

वैसे कोहली अकेले क्रिकेटर नहीं हैं, जिनका पुतला दिल्ली स्थित मैडम तुसाद स्टूडियो में लगाया हो। पूर्व कप्तान कपिल देव और क्रिकेट के भगवान के नाम से मशहूर पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदलुकर के मोम के पुतले यहां की शोभा बढ़ाते हैं। ये सभी पुतले लंदन स्थित म्यूजिम की टीम से आए हुए कारीगरों ने तैयार किए हैं।

भारतीय टीम के कप्तान के कान को इस तरह पहुंचाया गया नुकसान। (फोटो सोर्स: द स्टेट्समैन)

नई दिल्ली के मैडम तुसाद स्टूडियो में लगे भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के मोम के पुतले (वैक्स स्टैचू) को नुकसान पहुंचाया गया। बुधवार (छह जून) को कुछ फैंस जोश में होश खो बैठे और उन्होंने कोहली के पुतले का कान तोड़ दिया, जबकि उसी दिन इस पुतले का अनावरण किया गया था। फैंस उस दौरान कोहली के पुतले के साथ सेल्फी-फोटो लेने को बेहद उत्सुक थे। जोश इतना अधिक था कि धक्का-मुक्की में वे कोहली का दाहिना कान ले डूबे।

कोहली के पुतले के अनावरण के कुछ देर बाद तक चीजें ठीक थीं। मगर स्टूडियो में फैंस की संख्या अचानक बढ़ने और उनके कोहली के पुतले संग सेल्फी-फोटो लेने की चाहत इस घटना के पीछे का अहम कारण बनी। हालांकि, मैडम तुसाद प्रबंधन ने इसके बाद पुतले के तोड़े गए कान को शाम तक दुरुस्त कराया वापस लगा दिया था।

अब आप सोच रहे होंगे कि पुतले के पास इतनी भीड़ पहुंची कैसे? दरअसल, मैडम तुसाद स्टूडियो में खास किस्म का नियम, जिसकी वजह से घूमने-फिरने वालों व फैंस को पसंदीदा मोम के पुतले के पास जाकर उसे देखने और सेल्फियां-फोटोज लेने की इजाजत होती है। हालांकि, इस तरह की छूट अन्य किसी म्यूजियम में देखने को नहीं मिलती है।

भारतीय कप्तान के पुतले का अनावरण करते हुए मर्लिन एंटरटेनमेंट इंडिया के महाप्रबंधक व निदेशक अंशुल जैन बोले थे, “देश में क्रिकेट-क्रिकेटर्स को लेकर लोगों में बेहद प्रेम है। कोहली आज के सबसे बड़े क्रिकेटर स्टार हैं। दुनिया में उनके करोड़ों चाहने वाले हैं। हमें यकीन है कि उनके पुतले से इस स्टूडियो में और चार चांद लगेंगे।”

वैसे कोहली अकेले क्रिकेटर नहीं हैं, जिनका पुतला दिल्ली स्थित मैडम तुसाद स्टूडियो में लगाया हो। पूर्व कप्तान कपिल देव और क्रिकेट के भगवान के नाम से मशहूर पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदलुकर के मोम के पुतले यहां की शोभा बढ़ाते हैं। ये सभी पुतले लंदन स्थित म्यूजिम की टीम से आए हुए कारीगरों ने तैयार किए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App