ताज़ा खबर
 

लगातार तीसरे साल नीरज चोपड़ा को खेल रत्न और दुती चंद को अर्जुन अवार्ड देने की सिफारिश, लॉकडाउन के कारण खेल मंत्रालय ने बढ़ाई तारीख

एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एएफआई) ने अर्जुन पुरस्कार के लिए दुती चंद, एशियाड में गोल्ड जीतने वाले अरपिंदर सिंह (ट्रिपल जंप), मनजीत सिंह (800 मीटर) और मौजूदा एशिया चैंपियन पीयू चित्रा के नाम की सिफारिश की है।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: June 3, 2020 8:44 PM
Neeraj Chopra and dutee chand 8502018 जकार्ता एशियाई खेलों में भारतीय खिलाड़ियों ने 70 पदक जीते थे। इनमें से 20 मेडल एथलेटिक्स में आए थे।

एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एएफआई) ने बुधवार को खेल मंत्रालय से स्टार जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार देने की सिफारिश की। एएफआई ने लगातार तीसरे साल खेल रत्न के लिए नीरज चोपड़ा और अर्जुन पुरस्कार के लिए भारत की सबसे तेज धाविका दुती चंद का नाम चुना है। दुती के अलावा अर्जुन पुरस्कार के लिए जकार्ता एशियाड में गोल्ड मेडल जीतने वाले अरपिंदर सिंह (ट्रिपल जंप), मनजीत सिंह (800 मीटर) और मौजूदा एशिया चैंपियन पीयू चित्रा के नाम की सिफारिश की गई है।

खेल मंत्रालय द्वारा गठित पैनल विभिन्न राष्ट्रीय महासंघों से मिले नामांकन की छंटनी करेगा। चुने हुए खिलाड़ियों को 29 अगस्त (राष्ट्रीय खेल दिवस) पर इन्हें प्रदान किया जाएगा। खेल मंत्रालय ने राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के लिए आवेदन जमा करने की तारीख 22 जून तक बढ़ा दी है। इसके साथ ही कोरोना वायरस महामारी के कारण लागू लॉकडाउन में प्रस्तावक मिलने में होने वाली कठिनाइयों के मद्देनजर खिलाड़ियों को स्वयं के नामांकन की अनुमति भी दे दी है।

नामांकन प्रक्रिया पूरी करने के लिए बुधवार को आखिरी दिन था, लेकिन समय सीमा बढ़ा दी गई। प्रक्रिया में भी रियायत दी गई है। मंत्रालय के एक सर्कुलर में कहा गया, ‘हमने पुरस्कार योजना में अधिकारियों या व्यक्तियों की अनुशंसा पर भेजे गए आवेदन ही जमा करने का नियम खत्म कर दिया है। फार्म में इस हिस्से को खाली छोड़ा जा सकता है।’

मंत्रालय ने महामारी के कारण इस साल सिर्फ ईमेल से आवेदन मंगवाये थे। खेल पुरस्कार आवेदन के नियमों के तहत वे ही आवेदन मान्य होते हैं, जिनके लिए राष्ट्रीय महासंघ, खेल बोर्ड या पूर्व पुरस्कार विजेताओं ने अनुशंसा की हो। अब रियायत के बाद वे खिलाड़ी भी आवेदन कर सकेंगे जिनके नाम राष्ट्रीय खेल महासंघ ने नहीं भेजे हैं। उन्हें पूर्व विजेताओं से समर्थन भी हासिल नहीं है। हर साल महान हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन पर 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर ये पुरस्कार दिए जाते हैं।

बता दें कि नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। उन्होंने 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। नीरज ने 2018 एशियाई खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था। उस साल उनके नाम की सिफारिश खेल रत्न के लिए की गई थी। नीरज कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले पहले भारतीय जैवलिन थ्रोअर हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना: डॉरेन ब्रावो, शिमरॉन हेटमेयर, कीमो पॉल का इंग्लैंड जाने से इंकार, विंडीज ने रिजर्व में रखे 11 खिलाड़ी
2 ‘मैंने फ्लाइट में जड्डू से माफी मांगी थी,’ चैंपियंस ट्रॉफी में रन आउट विवाद पर हार्दिक पंड्या ने खोला राज
3 ‘परिवार को गालियां मिलीं, पिता का मजाक उड़ा, लेकिन मैं समझदार बन गया,’ कॉफी विद करण विवाद पर छलका हार्दिक पंड्या का दर्द
ये पढ़ा क्या?
X