ताज़ा खबर
 

दिग्‍गज बल्‍लेबाज मुरली विजय का अता-पता नहीं, तमिलनाडु की टीम से भी हुए बाहर

ग्रुप-सी में तमिलनाडु इस वक्त 3 में से महज 1 ही मुकाबला जीत सका है, जिसके चलते ये टीम चौथे पायदान पर है। मुरली विजय ने इस टूर्नामेंट में गुजरात के खिलाफ 11, जबकि गोवा के विरुद्ध 51 रन बना सके।

मुरली विजय।

भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज मुरली विजय को विजय हजारे ट्रॉफी के बाकी मैचों के लिए तमिलनाडु की टीम में जगह नहीं मिली है। विजय गुरुवार (8 फरवरी) को मुंबई के खिलाफ हुए मैच के लिए मैदान पर नहीं पहुंचे और इसके लिए उन्होंने ‘कंधे की चोट’ को वजह बताया। इसके बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। तमिलनाडु क्रिकेट संघ (टीएनसीए) ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि संघ, चयन समिति और टीम के फिजियो को विजय के चोटिल होने की कोई जानकारी नहीं है।

ईएसपीएन क्रिकइन्फो ने टीएनसीए के एक शीर्ष अधिकारी के हवाले से बताया कि गुरुवार सुबह 7.30 बजे विजय एसएसएन कॉलेज के मैदान पर नहीं पहुंचे और मैच शुरू होने से महज डेढ़ घंटे पहले कोच ऋषिकेश कानिटकर को अपने चोटिल होने की जानकारी दी। विजय हजारे ट्रॉफी के इस सत्र में विजय (33) गुजरात और गोवा के खिलाफ पहले दो मैचों में तमिलनाडु के लिए खेले। उनकी जगह बल्लेबाज प्रदोष रंजन पॉल को टीम में शामिल किया गया है।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback

 

murali vijay, vijay daughter, murali vijay family, murali vijay wife, cricket news, sports news, murali vijay affair, murali vijay wife affair

टीएनसीए पिछले कुछ समय से विजय के बर्ताव से नाखुश है। एक अधिकारी ने कहा, “अचानक, अंतिम समय में उनकी जगह किस खिलाड़ी को टीम में शामिल करें? विजय ना ही मैदान पर पहुंचे और ना ही उन्होंने चयनकर्ताओं को अपनी चोट के बारे में बताया। यह बहुत निराशाजनक है।”

टीएनसीए के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, “यह पहली बार नहीं है जब ऐसा हुआ है। चयनकर्ता विजय के व्यवहार के कारण उन्हें रणजी ट्रॉफी टीम में भी शामिल नहीं करना चाहते हैं।” हालांकि अधिकारी ने बताया कि टीएनसीए ने अभी तक किसी प्रकार की अनुशासनिक कार्रवाई शुरू नहीं की है।

मुरली विजय के अंतर्राष्ट्रीय करियर पर नजर डालें ने 56 टेस्ट मैचों की 96 पारियों में 40.02 की औसत से 3802 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 11 शतक और 15 अर्धशतक लगाए हैं। वहीं 17 वनडे मैचों में विजय महज 21.19 के एवरेज से 339 रन बना सके। टी20 मुकाबलों की बात करें तो इस दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 9 मुकाबलों में 169 रन बनाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App