ताज़ा खबर
 

मुसलिम रीतिरिवाज से 9 जून को लुईविले में होगा अली का अंतिम संस्कार

महान मुक्केबाज मोहम्मद अली का परिवार भी उनकी पार्थिव देह के साथ पैतृक शहर लुईविले जाएगा जहां ‘द ग्रेटेस्ट’ की अंतिम यात्रा और शोकसभा का आयोजन किया गया है।
Author लुईविले | June 7, 2016 04:45 am
महान बॉक्सर मोहम्मद अली की अंतिम यात्रा लुइवे में गुरुवार को निकाली गई। (Photo: AP)

महान मुक्केबाज मोहम्मद अली का अंतिम संस्कार इस हफ्ते लुईविले में स्थानीय समयानुसार सुबह नौ बजकर 55 मिनट पर होगा। मोहम्मद अली के अंतिम संस्कार से एक दिन पहले उनके मजहब के सदस्यों को इस चैंपियन को पारंपरिक रूप से अलविदा कहने का मौका मिलेगा।

अली के परिवार के प्रवक्ता बाब गुनेल ने बताया कि उनका जनाजा गुरुवार दोपहर फ्रीडम हाल में होगा और इसमें सभी व्यक्ति हिस्सा ले सकेंगे। फ्रीडम हाल का चयन इसलिए किया गया है क्योंकि इसकी क्षमता 18000 लोगों की है और यह ऐतिहासिक रूप से अली के लिए महत्त्वपूर्ण स्थान है। अली ने यहीं 1960 में अपनी पहली पेशवर फाइट लड़ी थी और जीती थी।

गुनेल ने कहा कि 1960 के दशक में इस्लाम अपनाने वाले अली ने लगभग एक दशक पहले अपने अंतिम संस्कार की योजना बनानी शुरू कर दी थी। गुनेल ने कहा कि वे चाहते थे कि उनके अंतिम संस्कार में उनके जीवन की झलक मिले और पता चले कि उन्होंने कैसे जीवन जिया और सभी धर्म और रंग के लोगों को इसमें आने की अनुमति हो। अली के अंतिम संस्कार के मौके पर तुर्की के राष्ट्रपति और जार्डन के शाह के अलावा विश्व के कई नेता, धर्मगुरु और सुपरस्टार लोगों को संबोधित कर सकते हैं। कैलीफोर्निया के इमाम जैद शाकिर लुईविले के केएफसी यम सेंटर में अंतिम संस्कार संपन्न कराएंगे।

पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन भी इस मौके पर लोगों कोे संबोधित करेंगे। दलाई लामा को भी निमंत्रण भेजा गया था लेकिन उन्होंने खेद जताया कि वे कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।

महान मुक्केबाज मोहम्मद अली का परिवार भी उनकी पार्थिव देह के साथ पैतृक शहर लुईविले जाएगा जहां ‘द ग्रेटेस्ट’ की अंतिम यात्रा और शोकसभा का आयोजन किया गया है। इसी शहर में तीन बार के विश्व हैवीवेट चैंपियन अली पले बढ़े और मुक्केबाजी का ककहरा सीखा। उनका परिवार भी एरिजोना से उनके पार्थिव शरीर के साथ लुईविले जाएगा।

अली के नौ बच्चों में से एक बेटी हाना ने ट्विटर पर लिखा, ‘हमारा दिल रो रहा है लेकिन हमें खुशी है कि डैडी को मुक्ति मिल गई।’ लुईविले के मेयर ग्रेग फिशर ने कहा कि शहर अपने सबसे चहेते बेटे के सम्मान में जश्न के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि यह चैंपियन अलौकिक था जिसने सभी सरहदें मिटा दी। एथलेटिक्स से कला, मानवाधिकार कार्य, श्वेत से अश्वेत, ईसाई से इस्लाम और वे पूरी दुनिया के थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule