ताज़ा खबर
 

VIDEO: ‘चेन्नई सुपरकिंग्स ने सुधारा मेरा करियर’, सुरेश रैना ने कहा धोनी ने दी थी खुलकर खेलने की आजादी

सुरेश रैना सिर्फ चेन्नई के लिए 164 मैच में 4527 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 33.28 का रहा है। रैना का स्ट्राइक रेट 137.34 का रहा। उन्होंने एक शतक और 32 अर्धशतक लगाए।

महेंद्र सिंह धोनी चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान और सुरेश रैना उपकप्तान हैं। (सोर्स – सोशल मीडिया)

भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना को मिस्टर आईपीएल कहा जाता है। वे टूर्नामेंट के इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में विराट कोहली के बाद दूसरे स्थान पर हैं। उन्होंने 193 मैच में 33.34 की औसत से 5368 रन बनाए हैं। इस मामले में कोहली 5412 रन के साथ पहले स्थान पर हैं। रैना आईपीएल में अपनी सफलता का श्रेय चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को देते हैं। उन्होंने पूर्व ओपनर आकाश चोपड़ा से बातचीत में कहा कि धोनी ने उन्हें खेलने की आजादी दी है।

रैना ने कहा, ‘‘चेन्नई में मुझे तीन नंबर पर बल्लेबाजी के लिए मौका मिला। मैंने इसे भुनाया। 13 साल तक मैं उन्हीं के लिए खेला। बस बीच में 2 साल गुजरात के लिए खेला। माही भाई ने मुझे हमेशा ही वो लाइसेंस दिया था कि तुझे खेलना है। जैसा तेरा गेम प्लान है उस पर टिके रहो, लेकिन परिस्थितियों को भांपना तुम्हारे ऊपर है। मुझे बल्लेबाजी करने की आजादी। इसे मैंने इंप्रूव किया। उस टीम में मैथ्यू हेडेन, माइकल हसी, जैकब ओरम, स्टीफेन फ्लेमिंग थे। सभी बाएं हाथ के बल्लेबाज थे। उनकी सकारात्मकता का मुझ पर असर हुआ। इससे मेरा गेम सही हुआ।’’

चेन्नई द्वारा रैना और धोनी को अपनाए जाने पर बाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा, ‘‘उस समय यूपी की टीम तो थी नहीं। जब हम चेन्नई के लिए चुने गए थे तो उस समय ऑस्ट्रेलिया में थे। माही भाई और मेरा साथ खेलना लिखा हुआ था। लोगों का प्यार जो मिला उससे लगा ही नहीं कि हम पराए हैं। प्रदर्शन सही होने के बाद लोगों ने हमें अपना लिया।’’ रैना ने चेन्नई के लिए 164 मैच में 4527 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 33.28 का रहा है। रैना का स्ट्राइक रेट 137.34 का रहा। उन्होंने एक शतक और 32 अर्धशतक लगाए।

Online Game खेलने के लिए क्‍लिक करें


आकाश चोपड़ा ने रैना से धोनी के फ्यूचर प्लान के बारे में पूछा। इस पर रैना ने कहा, ‘‘यह उनका पर्सनल मामला है। हम उनसे ये पूछ भी नहीं सकते हैं। वे जिस तरह बल्लेबाजी कर रहे थे तो लग रहा था कि कुछ अलग करना चाह रहे हैं। दुर्भाग्य से लॉकडाउन हो गया। अब चीजें सिर्फ उनके लिए नहीं बल्कि सबके लिए बदल जाएंगी। आपको ग्राउंड पर प्रैक्टिस करनी होती है। लॉकडाउन में सबके हाथ आलू-प्याज काटकर सॉफ्ट हो गए हैं।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 महेंद्र सिंह धोनी के लाइव आने की अफवाह पर फैंस हुए खुश, चेन्नई सुपरकिंग्स ने मामला किया साफ
2 हर क्रिकेट मैच फिक्‍स- सटोरिये संजीव चावला ने अंडरवर्ल्ड कनेक्‍शन भी बताया
3 VVS लक्ष्मण ने बताया IPL में रोहित शर्मा की सफलता का राज, कैसे किया धोनी की टीम को 4 बार परास्त
IPL 2020
X