टीवी पर विवादित टिप्पणी के बाद सस्पेंड हुए हार्दिक पंड्या को एमएस धोनी ने दिया था सहारा, खुद जमीन पर सोकर भारतीय ऑलराउंडर को दिया था बिस्तर

हार्दिक पंड्या ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि करियर के बुरे वक्त में जब वे सस्पेंड हो गए थे उस वक्त एमएस धोनी उनके साथ खड़े थे। न्यूजीलैंड दौरे पर पंड्या का होटेल रूम नहीं था तब धोनी ने उन्हें बुलाकर बिस्तर दिया और खुद जमीन पर सोए।

ms-dhoni-supported-hardik-pandya-after-controversial-statement-on-karan-johar-tv-talk-show-by-making-him-sleep-on-bed-as-he-slept-on-floor
हार्दिक पंड्या और केएल राहुल के टीवी शो की तस्वीरें (बाएं), धोनी ने दिया था पंड्या का साथ (सोर्स- ट्विटर)

भारत के स्टार हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पंड्या ने टी20 विश्व कप से पहले एक इंटरव्यू में अपनी जिम्मेदारियों के बारे में बात की है। इसके अलावा उन्होंने अपने करियर के सबसे बुरे पल के बारे में भी बताया है जब उन्हें टीवी के एक टॉक शो में विवादित टिप्पणी के लिए सस्पडेंट कर दिया गया था। उन्होंने बताया कि उस वक्त सिर्फ एमएस भाई (एमएस धोनी) ने ही उन्हें समझा था और उन्हें सहारा दिया था।

‘ईएसपीएन क्रिकइन्फो की क्रिकेट मंथली’ को दिये गए इंटरव्यू में पंड्या ने अपने जीवन की कई चुनौतियों और धोनी के साथ असाधारण तालमेल पर बात की । सबसे पहले उन्होंने कहा कि उनके कैरियर की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है क्योंकि ‘लाइफ कोच और भाई ’ महेंद्र सिंह धोनी की गैर मौजूदगी में एक ‘फिनिशर’ के तौर पर सारा भार उनके कंधों पर होगा।

इसके साथ ही उन्होंने अपने जीवन का ऐसा वाकया शेयर किया जिसने उनको खासा परेशान किया था। यहां तक की उन्हें सस्पेंड भी कर दिया गया था। उस दौरान उन्हें जिस इंसान का सहारा मिला था वो थे महेंद्र सिंह धोनी।

खुद जमीन पर सोकर मुझे बिस्तर दिया…

पंड्या ने बताया कि एक टीवी शो पर विवादास्पद टिप्पणी के बाद निलंबन पूरा करके जब वह 2019 में न्यूजीलैंड दौरे पर वापसी कर रहे थे तो धोनी ने उनसे बात की ।

उन्होंने बताया कि,‘‘ शुरू में मेरे लिए कोई होटल रूम नहीं था । फिर मुझे फोन आया कि यहां आ जाओ । एमएस ने कहा कि वह बिस्तर पर नहीं सोते हैं । वह नीचे सोएंगे और मैं उनके बिस्तर पर । वह पहले व्यक्ति हैं जो हमेशा साथ थे । वह मुझे गहराई से जानते हैं । मैं उनके काफी करीब हूं । वही मुझे शांत रख सकते हैं ।’’

युवराज सिंह ने आखिर युजवेंद्र चहल को ऐसा क्या बोल दिया जो जाना पड़ा जेल, देखें रोहित शर्मा के साथ विवादित चैट का Video

उन्होंने कहा ,‘‘जब यह सब हुआ, उन्हें पता था कि मुझे सहयोग की जरूरत है । मुझे एक कंधा चाहिए था जो मेरे क्रिकेट कैरियर में उन्होंने मुझे कई बार दिया । मैने उन्हें एमएस धोनी, एक महान क्रिकेटर के रूप में कभी नहीं देखा । मेरे लिए वह मेरे भाई हैं ।’’

पंड्या ने कहा कि कई बार वह अपने ही ख्यालों में उलझ जाते थे और धोनी ऐसे में उनकी मदद करते थे । उन्होंने कहा ,‘‘ मैं उन्हें फोन करके कहता था कि ये सोच रहा हूं , क्या चल रहा है बताओ । फिर वह बताते थे । मेरे लिये वह लाइफ कोच हैं । उनके साथ रहकर आप परिपक्व और विनम्र होना सीखते हैं ।’’

पंड्या ने कहा ,‘‘ मैं अपनी कमियां स्वीकार करता हूं । कैरियर के शुरूआती दो साल में काफी भटकाव था लेकिन हमारा परिवार एक दूसरे के काफी करीब है ।परिवार में एक चीज साफ है कि मैं गलत हूं तो गलत हूं । हर कोई अपनी राय देता है और अगर कोई भटकने लगता है तो उसके पैर जमीन पर रखने में परिवार मदद करता है ।’’

उन्होंने यह भी कहा कि ,‘‘ मैं सुर्खियों में रहना नहीं चाहता लेकिन ऐसा हो जाता है । जब मैं मैदान पर जाता हूं तो सभी की नजरें मुझ पर होती है क्योंकि उन्हें पता है कि मैं फॉर्म में रहा तो अपने दम पर मैच जिता सकता हूं ।’’

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
फीफा रैंकिंग: 158वें स्थान पर खिसका भारत
अपडेट