ताज़ा खबर
 

रोज चिकन खाने के बाद कैसे फिट रहते थे धोनी? प‍िता बनने के बाद किया बदलाव, पहले द‍िखते थे ऐसे

जंक फूड के शौकीन धोनी को धीरे-धीरे इस बात का एहसास हुआ कि उन्हें खुद को फिट रखना होगा। उन्होंने अपना पूरा वर्कआउट शेड्यूल ही चेंज कर दिया। अब वे ब्रेकफास्ट से पहले भी जिम में पसीना बहाते हैं।

MS Dhoni, sakshi, Dhoni, chicken, dhoni fitnessधोनी ने भारत के लिए पहला मैच 2004 और आखिरी मैच 2019 में खेला था। (सोर्स – सोशल मीडिया)

महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी ने हाल ही में एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि माही बेटी जीवा के जन्म से पहले रोज चिकन खाते थे। उन्होंने जिम में 2015 के बाद से ही पसीना बहाना शुरू किया था। साक्षी के मुताबिक, धोनी को रोज रात में चिकन और सुबह में मसाला डोसा खाना पसंद था। 2010 में दोनों की शादी हुई थी। इसके पांच साल के बाद जीवा का जन्म हुआ। धोनी उसके पहले भी जिम जाते थे, लेकिन उसमें घंटों पसीना बहाना जीवा के आने के बाद ही शुरू किया।

साक्षी के मुताबिक, धोनी को खाना बहुत पसंद है। जीवा के जन्म के बाद उन्होंने खाने से लेकर ब्रेकफास्ट में भी बदलाव कर दिया। धोनी कई बार सार्वजनिक जगहों पर चिकन और मसालेदार खाना खाते दिखाई दे चुके हैं। माही की कप्तानी में टीम इंडिया दो वर्ल्ड कप जीती है। इसके अलावा टेस्ट में नंबर एक टीम बनी और चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया था। धोनी टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद फिटनेस पर ज्यादा ध्यान देने लगे।

dhoni 2015 के बाद ब्रेकफास्ट में दलिया और ओट्स की मात्रा बढ़ गई। रात में बटर चिकन की जगह चिकन टिक्का खाने लगे। हालांकि, वे कभी-कभी बटर चिकन खा लेते हैं, लेकिन पहले की तरह रोजाना नहीं। ms dhoni, Mahendra Singh Dhoni 2015 के पहले धोनी अभी के मुकाबले में काफी पतले दिखते थे। यहां तक कि उनके मसल्स भी साफ-साफ नहीं दिखते थे। वे रांची जैसे छोटे शहर से आए थे। दौड़ने में काफी फास्ट थे, लेकिन शुरुआती दौर में कभी उनके मसल्स ज्यादा नहीं दिखे। DHONI, DHONI FITNESS 2015 के पहले धोनी अभी के मुकाबले में काफी पतले दिखते थे। यहां तक कि उनके मसल्स भी साफ-साफ नहीं दिखते थे। वे रांची जैसे छोटे शहर से आए थे। दौड़ने में काफी फास्ट थे, लेकिन शुरुआती दौर में कभी उनके मसल्स ज्यादा नहीं दिखे। DHONI धोनी ने कई मौकों पर अपने टी-शर्ट उतारे हैं। उन्होंने 2007 और 2011 वर्ल्ड कप जीतने के बाद अपनी जर्सी फैंस को दे दिया था। इसके बाद वे हाफ-टीशर्ट में नजर आए। DHONI धोनी ने टेस्ट मैचों से संन्यास लेने के बाद फिटनेस की ओर ज्यादा ध्यान लगाया। वे भारत के लिए सीमित ओवरों में ही खेलते थे तो उनके लिए फिट रहना ज्यादा जरूरी था। दुनिया के सबसे तेज विकेटकीपर भी माने जाते रहे हैं। अपनी फिटनेस की वजह से ही 38 साल की उम्र में भी वो सबसे तेज स्टंप करते थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘रोजाना चिकन और मसाला डोसा खाते थे Dhoni, बेटी के जन्म के बाद जिम में बहाने लगे पसीना’, साक्षी ने किया था खुलासा
2 डोपिंग की दोषी पाई गई नेशनल चैंपियन, दुबई की लैब से 19 महीने बाद आई रिपोर्ट; धोनी-विराट का भी लिया गया सैंपल
3 ‘MS DHONI-विराट कोहली को नहीं मिलना चाहिए सफलता का श्रेय, अनिल कुंबले भारत के बेस्ट कैप्टन’ इंटरव्यू में बोले थे गौतम गंभीर
यह पढ़ा क्या?
X