ताज़ा खबर
 

MS Dhoni Retirement: महेंद्र सिंह धोनी अकेले कप्तान जिन्होंने जीतीं ICC की तीनों बड़ी ट्रॉफियां, ये रहे करियर के 5 खास पल

MS Dhoni Retirement News: महेंद्र सिंह धोनी ने दिसंबर 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। धोनी ने 1998 में जूनियर क्रिकेट से शुरुआत की थी और महज 6 साल में ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रख दिया।

MS Dhoni Retirement: अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को दो-दो बार वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस की शाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया। इसके साथ ही उन्होंने अपने 16 साल लंबे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को विराम दे दिया।

महेंद्र सिंह धोनी ने दिसंबर 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच खेलकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। धोनी दुनिया के इकलौते कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी के तीनों बड़े टूर्नामेंट में टीम इंडिया को चैंपियन बनाया है। धोनी ने 1998 में जूनियर क्रिकेट से शुरुआत की थी और महज 6 साल में ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रख दिया। हम यहां धोनी के उन 6 खास मौकों का जिक्र करेंगे, जो उनके लिए बेहद खास रहे हैं।

2005: धोनी बांग्लादेश के खिलाफ पहली सीरीज में कुछ खास नहीं कर पाए थे। हालांकि, अपने 5वें वनडे यानी अगली सीरीज (2005) में पाकिस्तान के खिलाफ विशाखापत्तनम में 123 गेंदों पर 148 रनों की पारी खेली थी। उसके बाद से सबकी जुबान पर एक सवाल छोड़ दिया था, ‘वो लंबे बालों वाला लड़का, धोनी कौन है?’

2007: धोनी को 2007 में पहली बार भारत की टी20 टीम की कमान दी गई थी। उस समय उनके सामने कई चुनौतियां थीं। धोनी ने सभी चुनौतियों का सामना किया और पहली बार में भी टीम इंडिया को टी20 वर्ल्ड कप चैंपियन बना दिया।

2008: महेंद्र सिंह धोनी 2008 में टेस्ट टीम के कप्तान बने। धोनी की कप्तानी में ही भारतीय टीम पहली बार टेस्ट में नंबर वन बनी। उन्होंने साल 2008 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच से टेस्ट टीम की कमान संभाली थी। 2009 में ही टीम इंडिया आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहली बार नंबर वन बन गई।

2011: धोनी ने 2011 में भारत को 28 साल बाद दूसरी बार वनडे वर्ल्ड कप दिलाया। भारत को विश्व चैंपियन बनने में उन्होंने बतौर कप्तान ही नहीं एक खिलाड़ी के तौर भी अहम भूमिका निभाई थी। नुवान कुलाशेखरा की गेंद पर यह उनके हेलिकॉप्टर छक्के का ही कमाल था कि भारत ने वर्ल्ड कप फाइनल में श्रीलंका को 6 विकेट से हरा दिया था।

सुरेश रैना ने भी लिया अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास, इंस्टाग्राम पर लिखा- आपकी यात्रा में मैं भी शामिल

महेंद्र सिंह धोनी: पल दो पल की नहीं, युगों तक याद रखी जाने वाली है कहानी

2013: महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में ही टीम इंडिया ने पहली बार आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। तब 2013 भारत ने फाइनल में इंग्लैंड को उसी के घर (बर्मिंघम के एजबस्टन) में 5 रन से हराया था। उस मैच में रविंद्र जडेजा मैन ऑफ द मैच बने थे। जडेजा ने नाबाद 33 रन और 24 रन देकर 2 विकेट लिए थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 MS Dhoni के बाद सुरेश रैना ने भी लिया अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास, इंस्टाग्राम पर लिखा- आपकी यात्रा में मैं भी शामिल
2 महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास, फैंस शॉक्ड; अब ‘नीली जर्सी’ में नहीं दिखेंगे माही
3 डेविड वार्नर ने इंडियंस फैंस को दी स्वतंत्रता दिवस की बधाई, भारत को बताया अपना दूसरा घर
ये पढ़ा क्या?
X