ताज़ा खबर
 

‘महेंद्र सिंह धोनी पर किसी को हुक्म चलाने का अधिकार नहीं,’ भारत को वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले गैरी कर्स्टन फिर कोचिंग देने को तैयार

महेंद्र सिंह धोनी ने नौ साल पहले 2011 आईसीसी विश्व कप फाइनल के बाद से एक लंबा सफर तय किया है। अब धोनी के संन्यास की अटकलें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दौड़ रही हैं।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: May 28, 2020 5:19 PM
GAry Kristen 850गैरी कर्स्टन ने 2008 से 2011 के दौरान टीम इंडिया को कोचिंग दी थी।

भारतीय क्रिकेट टीम ने 1983 के 28 साल बाद 2011 में महेंद्र सिंह धोनी की अगुआई में वनडे वर्ल्ड कप जीता। उस समय टीम इंडिया के मुख्य कोच गैरी कर्स्टन थे। गैरी कर्स्टन को आज भी वह क्षण याद है, जब चैंपियन बनने के बाद टीम के खिलाड़ियों ने उन्हें कंधे पर बैठाकर मैदान में घुमाया था। शायद यही वजह है कि वह 52 साल की उम्र में भी भारतीय क्रिकेट टीम को फिर से कोचिंग देने के लिए तैयार हैं।

कुछ दिन पहले ही कर्स्टन ने अच्छे कोच में होने वाली स्किल्स को लेकर चर्चा की थी। उन्होंने कहा था, कोच को टीम में मौजूद हर तरह के खिलाड़ियों को सफलतापूर्वक संभालना आना चाहिए। इससे हर खिलाड़ी को आगे बढ़ने का मौका मिलता है। कोच को ऐसा माहौल बनाना चाहिए, जिससे टीम उच्च स्तर के प्रदर्शन के लिए तैयार हो सके। कोच पर टीम की सफलता की जिम्मेदारी होती है सिर्फ खिलाड़ियों की नहीं।

इस बार उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट, विराट कोहली की कप्तानी और टीम इंडिया को लेकर बात की। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, गुरु गैरी ने 2011 के दौरान की कोचिंग को याद करते हुए कहा, ‘टीम के खिलाड़ियों के साथ वह एक शानदार यात्रा। विश्व कप की बहुत सी यादों वाली। विश्व कप जीतने के लिए खिलाड़ियों से बहुत अधिक उम्मीदें थीं। उन्होंने इसे अच्छी तरह से संभाला।’

महेंद्र सिंह धोनी ने नौ साल पहले उस विश्व कप फाइनल के बाद से एक लंबा सफर तय किया है। अब धोनी के संन्यास की अटकलें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दौड़ रही हैं। पूर्व भारतीय कप्तान के हाथों में इस समय इंडियन प्रीमियर लीग की फ्रैंचाइजी चेन्नई सुपरकिंग्स की कमान है। आईपीएल 2020 को तेजी से फैलने वाली COVID-19 महामारी के कारण अगली सूचना तक टालना पड़ा है।

कर्स्टन ने कहा, ‘एमएस धोनी एक अविश्वसनीय क्रिकेटर हैं। बुद्धिमत्ता, शांति, पावर, एथलेटिज्म, स्पीड और मैच विजेता ये चीजें उन्हें दूसरों से अलग करती हैं। गैरी ने माही को आधुनिक युग के महानतम खिलाड़ियों में से एक बताया।’ उन्होंने कहा, ‘धोनी ने खेल को अपनी शर्तों पर छोड़ने का अधिकार हासिल किया है। उसके लिए (रिटायरमेंट) किसी को भी उन पर हुक्म नहीं चलाना चाहिए।’

अगर भविष्य में टीम इंडिया से संपर्क किया जाएगा तो क्या कर्स्टन फिर से कोचिंग देने के लिए तैयार रहेंगे, के सवाल पर गुरु गैरी ने कहा मैं हमेशा इस पर विचार करूंगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 IPL ने पोस्ट की MS DHONI की तस्वीर, पूछा- केएल राहुल माही से क्या बात कर रहें? फैंस ने दिए मजेदार जवाब
2 हिमा दास ने भी लिया यूनिसेफ का चैलेंज, दीया मिर्जा, डायना पेंटी, अदिति राव हैदरी की तरह बनाया हाथ पर रेड डॉट
3 विराट कोहली को गेंदबाजी करना चाहते हैं इंग्लैंड के ‘सर’, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को बताया करिश्माई और बहादुर