ताज़ा खबर
 

मोहम्‍मद शमी और मैच-फिक्सिंग? पत्‍नी हसीन जहां से पूरे दिन चली BCCI अधिकारियों की पूछताछ

Mohammed Shami Wife, Hasin Jahan: बता दें कि हसीन जहां ने पति मोहम्मद शमी के खिलाफ कोलकाता पुलिस में घरेलू हिंसा और दहेज उत्पीड़न का केस दर्ज कराया है। वहीं आए दिन शमी और हसीन जहां एक दूसरे पर एक के बाद एक गंभीर आरोप लगा रहे हैं।

मोहम्मद शमी अपनी पत्नी के साथ (file photo)

इंडियन क्रिकेट बोर्ड के एंटी करप्शन विंग के चार अधिकारी शनिवार को कोलकाता पहुंचे, जहां पर उन्होंने क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां द्वारा पति पर लगाए गए मैच फिक्सिंग के आरोपों को लेकर उनसे बातचीत की। सूत्रों के मुताबिक, हसीन जहां ने काफी समय लाल बाजार स्थित सिटी पुलिस हेडक्वाटर में बिताया, जहां पर अधिकारियों ने उनसे इस मुद्दे पर पूरे दिन पूछताछ की। आईएएनएस से बातचीत के दौरान हसीन जहां के वकील जाकिर हुसैन ने कहा, “इस प्रक्रिया के दौरान मैं लाल बाजार पुलिस थाने में मौजूद नहीं था, लेकिन मुझे पता चला है कि बीसीसीआई के अधिकारियों ने हसीन जहां से बात की है। हसीन जहां काफी समय तक पुलिस स्टेशन में रही थीं।”

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कुछ सूत्रों का कहना है कि हसीन जहां ने अधिकारियों को इस मामले से संबंधित कुछ कागजात सौंपे हैं। एंटी करप्शन विंग के अधिकारियों ने हसीन जहां के अलावा उनके पिता और दो बेटियों से भी इस मामले में पूछताछ की है। बता दें कि हसीन जहां ने पति मोहम्मद शमी के खिलाफ कोलकाता पुलिस में घरेलू हिंसा और दहेज उत्पीड़न का केस दर्ज कराया है। पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है। वहीं आए दिन शमी और हसीन जहां एक दूसरे पर एक के बाद एक गंभीर आरोप लगा रहे हैं।

इस विवाद को गंभीरता से लेते हुए बीसीसीआई ने फैसला किया है कि वार्षिक खिलाड़ी अनुबंध के लिए शमी को अभी होल्ड पर रखा जाए। वहीं एनडीटीवी से बातचीत के दौरान शमी ने खुद पर लगे मैच फिक्सिंग के आरोपों से इनकार किया है। शमी का कहना है कि वे कभी भी मैच फिक्सिंग जैसे मामलों में शामिल नहीं रहे हैं और उन्हें बीसीसीआई से अच्छा सपोर्ट मिलता है। शमी ने यह भी कहा था कि बीसीसीआई को इसकी जांच करानी चाहिए और सारी जानकारी लेनी चाहिए। उन्होंने कहा था कि मैच फिक्सिंग के आरोप केवल उन्हें बदनाम करने के लिए लगाए जा रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App