Mohammed Kaif Befitting reply to Trollers who tried to mess with him on His Mother Photographs - मां की फोटो पर आए कमेंट्स देख भड़के मोहम्‍मद कैफ, हिंदू-मुस्लिम दोनों को दी नसीहत- सुधर जाओ भाइयों - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मां की फोटो पर आए कमेंट्स देख भड़के मोहम्‍मद कैफ, हिंदू-मुस्लिम दोनों को दी नसीहत- सुधर जाओ भाइयों

हालांकि, कैफ ने इन सबका जवाब एक करारे ट्वीट से दिया है। कैफ ने लिखा, 'मुसलमान सुधर नहीं सकते, हिंदू सुधर नहीं सकते, ऐसा सोचने वाले किसी को सुधार नहीं सकते। सुधर जाओ भाइयों!'

Author नई दिल्ली | December 28, 2016 6:30 PM
अपनी मां को स्टेशन छोड़ने गए भारत के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने ये तस्वीर ट्विटर पर शेयर की।(Photo: Twitter)

इस समय सोशल मीडिया पर ट्रोल का प्रचलन ऐसा हो गया है कि किसी को कुछ लिखने, फोटो या वीडियो शेयर करने से पहले दस बार सोचने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। खासकर ट्विटर पर ऐसे लोगों की भरमार है जो दूसरे की व्यक्तिगत जिंदगी में भी हस्तक्षेप करने से बाज नहीं आते। कुछ दिन पहले ही भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शमीं ने अपनी पत्नी की तस्वीरें फेसबुक और ट्विटर पर शेयर की, जिस पर कुछ मुस्लिम कट्टर पंथियों ने उनकी पत्नी की ड्रेस को लेकर सवाल खड़े करने शुरू कर दिए।

ऐसा ही कुछ मामला आर अश्विन के साथ हुआ, जब उन्हें ट्विटर यूजर्स से किसी भी मेसेज में अपनी पत्नी को टैग नहीं करने का अनुरोध करना पड़ा। ऐसा ही कुछ इरफान पठान के साथ हुआ और उन्हें ट्विटर पर उनके नवजात बच्चे के नाम को लेकर उल्टे सीधे सुझाव दिए जाने लगे। हालांकि इन सभी खिलाड़ियों ने ट्रोल करने वालों को माकूल जवाब देकर उनकी बोलती बंद कर दी। अन्य लोगों ने भी इनका साथ दिया और ट्रोल करने वालों की भर्सना की।

अब ताजा मामला भारत के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ का है। मोहम्मद कैफ को भी निहायत ही नीजि मामले में लोग ट्विटर पर सलाह दे रहे हैं और उनके व्यक्तिगत जीवन में हस्तक्षेप कर रहे हैं। दरअसल, क्रिकेटर मोहम्मद कैफ अपनी मां को रेलवे स्टेशन छोड़ने गए थे। उन्होंने अपनी पुरानी यादें ताजा करते हुए इसे एक अविस्मरणीय पल बताया और इस अवसर की कुछ तस्वीरें ट्वीटर पर शेयर की। जिसपर लोगों ने उन्हें नसीहत देनी शुरू कर दी। कैफ ने जो तस्वीर शेयर की हैं वो ट्रेन के अंदर ली गईं हैं। इन तस्वीरों में कैफ अपनी मां के साथ स्लिपर कोच में बैठे हुए नज़र आ रहे हैं। अब लोगों ने इस बात को ही मुद्दा बना लिया है।

लोगों ने कैफ को नसीहत देनी शुरू कर दी कि उन्हें अपन मां को स्लिपर कोच की बजाए, एसी या हवाई जहाज से भेजना चाहिए था। हालांकि, कैफ ने इन सबका जवाब एक करारे ट्वीट से दिया है। कैफ ने लिखा, ‘मुसलमान सुधर नहीं सकते, हिंदू सुधर नहीं सकते, ऐसा सोचने वाले किसी को सुधार नहीं सकते। सुधर जाओ भाइयों!’ इससे पहले मां को रेलवे स्टेशन छोड़ने गए मोहम्मद कैफ ने लिखा था, ‘जब मैं छोटा था तो मां भी मुझे हमेशा रेलवे स्टेशन छोड़ने आया करती थीं। आज मैं उन्हें छोड़ने आया हूं, ट्रेन के छूटने तक उन्हें छोड़कर जाने का मन नहीं कर रहा।’

हालांकि, कुछ लोगों ने ट्रोल करने वालों की कड़ी आलोचना करते हुए मोहम्मद कैफ के समर्थन में ट्वीट किया।

मोहम्मद कैफ ने दिया बेहरीन जवाब

.

क्रिकेट में आरक्षण पर उदित राज को विनोद कांबली ने कहा; मेरा नाम इस्तेमाल न करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App