ताज़ा खबर
 

पत्‍नी के आरोपों के बावजूद मोहम्‍मद शमी को मिला ग्रेड-बी कॉन्‍ट्रैक्‍ट, BCCI देगा 3 करोड़ रुपए सालाना

हसीन जहां द्वारा शमी पर हत्या का प्रयास, मानसिक व शारीरिक तौर पर प्रताड़ित करने और एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स जैसे गंभीर आरोप लगाए गए हैं। साथ ही हसीन ने शमी के भाई पर बलात्कार का प्रयास करने का भी आरोप लगाया है।

हसीन जहां और मोहम्मद शमी।

पत्नी द्वारा लगाए गए घरेलू हिंसा व विवाहेत्तर संबंध समेत कई तरह के आरोपों के कारण विवादों का सामना कर रहे भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित क्रिकेट प्रशासकों की समिति (सीओए) ने राहत दी है। सीओए ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से शमी को खिलाड़ियों की केंद्रीय अनुबंध सूची में शामिल करने की संस्तुति की है। बीसीसीआई ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। पत्नी हसीन जहां ने शमी पर अन्य महिलाओं के साथ संबंध रखने और उनके साथ मार-पीट करने के आरोप लगाए थे। इन आरोपों में फंसे शमी को बीसीसीआई ने इसी माह आठ मार्च को जारी हुई अपनी अनुबंध सूची में शामिल नहीं किया था।

बंगाल के तेज गेंदबाज शमी के खिलाफ पाकिस्तानी संपंर्कों से पैसे लेने के आरोप की भी भ्रष्टाचार रोधी अफसर जांच कर रहे थे। लेकिन बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी शाखा के प्रमुख नीरज कुमार ने जांच में शमी को दोषी नहीं पाया और इसके बाद सीओए ने अनुबंध सूची के ग्रेड बी में शमी को शामिल करने की संस्तुति की। बीसीसीआई ने एक बयान में कहा, “सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित क्रिकेट प्रशासकों की समिति (सीओए) ने दिल्ली के पूर्व पुलिस आयुक्त और बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी शाखा के प्रमुख नीरज कुमार से मोहम्मद शमी के मामले की जांच करने का आग्रह किया था, क्योंकि ये आरोप बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी संहिता के प्रावधानों से संबंधित हैं।”

mohammed shami, mohammed shami full controversy, mohammed shami full story, shami and hasin controversy, mohammed shami wife, shami, shami wife, hasin jahan, hasin jahan facebook, mohammed shami facebook, hasin jahan mohammed shami, mohammed shami news, mohammed shami instagram, mohammed shami wife hasin jahan, mohammed shami latest news

बोर्ड ने कहा, “इस आग्रह पर नीरज कुमार ने इस मामले की जांच से संबंधित एक गोपनीय रिपोर्ट सीओए को सौंप दी है। इस रिपोर्ट के निष्कर्ष के आधार पर सीओए का मानना है कि इस मामले में अब बीसीसीआई की भ्रष्टाचार विरोधी संहिता के तहत आगे किसी प्रकार की कार्रवाई और कार्यवाही की जरूरत नहीं है।” बयान में कहा गया है, “इस कारण से बीसीसीआई अब मोहम्मद शमी को बोर्ड की वार्षिक अनुबंध सूची के ग्रेड-बी में वार्षिक रिटेनरशिप का प्रस्ताव देगा।”

बीसीसीआई द्वारा केंद्रीय अनुबंध की नई सूची में जगह पाने वाले खिलाड़ी…

ग्रेड ए+ (7 करोड़ रुपए सालाना) : विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह।

ग्रेड ए (5 करोड़ रुपए सालाना) : महेंद्र सिंह धोनी, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे और ऋद्धिमान साहा।

ग्रेड बी (3 करोड़ रुपए सालाना) : केएल राहुल, उमेश यादव, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, हार्दिक पांड्या, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा और दिनेश कार्तिक।

ग्रेड सी (1 करोड़ रुपए सालाना) : केदार जाधव, मनीष पांडे, अक्षर पटेल, करुण नायर, सुरेश रैना, पार्थिव पटेल और जयंत यादव।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App