ताज़ा खबर
 

Misbah-ul-Haq पाकिस्तान क्रिकेट टीम के Head Coach और Chief Selector चुने गए, वकार यूनुस निभाएंगे यह भूमिका

इस संबंध में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर उर्दू में एक पोस्ट लिखी है। इसमें कहा गया है, मिस्बाह उल हक को अगले तीन साल के लिए राष्ट्रीय टीम का मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया जाता है।

वकार यूनुस (बाएं) और मिस्बाह उल हक। (सोर्स-आईसीसी ट्विटर)

जैसे कि खबरें थीं मिस्बाह उल हक को पाकिस्तान क्रिकेट टीम का मुख्य कोच और चयनकर्ता चुना गया है। मिस्बाह की गिनती पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सफल कप्तानों में की जाती है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने किसी एक ही व्यक्ति को मुख्य कोच और चयनकर्ता दोनों ही पदों की जिम्मेदारी दी है।

वीडियो: 42 की उम्र में मिस्बाह-उल-हक ने दिखाया दम, 6 गेंदों में जड़े लगातार छह छक्के

इस संबंध में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर उर्दू में एक पोस्ट लिखी है। इसमें कहा गया है, मिस्बाह उल हक को अगले तीन साल के लिए राष्ट्रीय टीम का मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया जाता है। वकार यूनुस पाकिस्तान क्रिकेट टीम का गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है। पीसीबी के अलावा इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने भी ट्वीट कर यह जानकारी सार्वजनिक की है।

मिस्बाह उल हक ने की संन्यास की घोषणा, वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलेंगे आखिरी सीरीज

इस ऐलान के बाद मिस्बाह अब अपने हिसाब से टीम चुन पाएंगे और उन्हीं खिलाड़ियों को कोचिंग देंगे। इस काम के एवज में उन्हें क्या पारिश्रमिक मिलेगा यह अभी सार्वजनिक नहीं किया गया है। इस साल जुलाई में खत्म हुए आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 में पाकिस्तान के सेमीफाइल से पहले ही बाहर हो जाने के बाद इंजमाम उल हक ने मुख्य चयनकर्ता के पद से इस्तीफा दे दिया था। मुख्य कोच मिकी आर्थर को भी पद छोड़ना पड़ा था, क्योंकि टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के कारण पीसीबी ने उनका करार नहीं बढ़ाया था।

मिस्बाह उल हक ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम के लिए 75 टेस्ट और 162 वनडे मैच खेल चुके हैं। उन्होंने बतौर कप्तान पाकिस्तान को कई सफलताएं दिलाई हैं। उनकी कप्तानी में आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2007 में पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने टूर्नामेंट का फाइनल खेला था। वे मिस्बाह ही थे जिन्होंने 2010 के स्पॉट फिक्सिंग मामले के बाद पाकिस्तान टीम को आगे बढ़ाया। हालांकि, कोच के तौर पर उन्हें ज्यादा अनुभव है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 11 हजार से ज्यादा रन बनाने वाले मिस्बाह उल हक ने पाकिस्तान सुपर लीग(PSL) में पेशावर जालमी टीम को अपनी कोचिंग की सेवाएं दी हैं। 45 साल के मिस्बाह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहली बार किसी टीम के कोच होंगे।

Next Stories
1 बारिश के कारण 43-43 ओवर का किया गया मैच, मनीष पांडे की जगह श्रेयस अय्यर संभाल रहे कमान
2 विराट कोहली ने जसप्रीत बुमराह की तारीफों के पुल बांधे, हनुमा विहारी को टेस्ट सीरीज की खोज बताया
3 न्यूजीलैंड के खिलाफ लसिथ मलिंगा ने इन खिलाड़ियों पर जताया भरोसा
ये पढ़ा क्या?
X