ताज़ा खबर
 

विराट कोहली की बल्लेबाज़ी के मुरीद हुए माइकल होल्डिंग

भारत के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली की तारीफ करते हुए वेस्टइंडीज के दिग्गज क्रिकेटर माइकल होल्डिंग ने कहा कि शीर्ष क्रम के इस बल्लेबाज की अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील करने की क्षमता से पता चलता है कि वह बेहतरीन क्रिकेटर है। कोहली ने अब तक भारत की तरफ से 151 वनडे मैच […]

Author Published on: February 17, 2015 4:33 PM

भारत के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली की तारीफ करते हुए वेस्टइंडीज के दिग्गज क्रिकेटर माइकल होल्डिंग ने कहा कि शीर्ष क्रम के इस बल्लेबाज की अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील करने की क्षमता से पता चलता है कि वह बेहतरीन क्रिकेटर है।

कोहली ने अब तक भारत की तरफ से 151 वनडे मैच खेले है जिसमें उन्होंने 51.95 की औसत से रन बनाये हैं। उन्होंने 22 शतक और 33 अर्धशतक लगाये हैं। उनका प्रति 6.5 पारी में शतक लगाया है। होल्डिंग ने कहा कि कोहली ने बल्लेबाज के रूप में अपने कौशल को सही साबित किया है।

होल्डिंग ने ईएसपीएनक्रिकइन्फो के वीडियो कार्यक्रम ‘मैच प्वॉइंट’ में कहा, ‘‘विराट कोहली को देखो। एक बार जब वह रन बनाना शुरू करता है तो फिर बनाता ही रहता है और शतक जड़ देता है और एक अच्छे बल्लेबाज से यही उम्मीद की जाती है। जहां तक एक क्रिकेटर का सवाल है तो हमेशा उससे ऐसी उम्मीद की जाती है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘कई बल्लेबाज जो कि छठे और सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिये आते हैं उनके लिये शतक जड़ना आसान नहीं होता लेकिन जब आप पहले से चौथे स्थान पर उतरते हो तो फिर आपको शतक लगाने में सक्षम होना चाहिए।’’

भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को लेकर हाल के समय में काफी कुछ कहा गया लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ चार विकेट लेने वाले मोहम्मद शमी और उनके साथियों ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी को 224 रन पर रोककर आलोचकों को करारा जवाब दिया।

होल्डिंग भी शमी और उमेश यादव से प्रभावित दिखे। यादव ने महत्वपूर्ण मौके पर दो विकेट लेकर पाकिस्तानी पारी लड़खड़ायी। होल्डिंग ने कहा, ‘‘खासकर शमी ने शानदार गेंदबाजी की। उसका अपनी गेंदों पर नियंत्रण था और उसने अच्छी तेजी से गेंदबाजी की। यादव ने भी अच्छी तेजी से गेंदबाजी की। आप इसे देख सकते हो।’’

भारत ने अपने 300 रन के स्कोर का अच्छी तरह से बचाव किया और 76 रन से जीत दर्ज करके सकारात्मक शुरुआत की। होल्डिंग महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्वकौशल और गेंदबाजों का उपयोग करने के तरीके से प्रभावित दिखे।

उन्होंने कहा, ‘‘आपको आक्रमण करना होगा, आपको विकेट लेने होंगे। ऐसी पिचों पर जहां बल्लेबाजी करना आसान हो रनों पर अंकुश लगाने के लिये गेंदबाजी करने का कोई मतलब नहीं बनता। आपको विकेट लेने ही होंगे और धोनी ने अच्छा काम किया। उन्होंने अपने गेंदबाजों में बदलाव भी किये। उन्होंने एक छोर से एक गेंदबाज को नहीं लगाये रखा कि चलो तुम पांच या छह ओवर कर लो।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories