ताज़ा खबर
 

IPL 2018, MI vs KXIP: 3 बार शून्य पर आउट हुए रोहित शर्मा, 13 खिलाड़ी हो चुके ‘डक’ का शिकार

IPL 2018: 21 मुकाबलों में से 11 बार मुंबई ने जीत दर्ज की है, जबकि 10 बार पंजाब ऐसा कर चुका है। वहीं बात अगर वानखेड़े स्टेडियम की करें, तो यहां 7 में से 4 बार मेजबान पंजाब ने फतह हासिल की है।

रोहित शर्मा। (Photo Courtesy: IPL)

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) सीजन-11 में मुंबई इंडियंस और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच बुधवार (16 मई) को वानखेड़े स्टेडियम में मैच खेला जाना है। मुंबई इंडियंस इस वक्त 12 में से 7 मैच हारकर छठे स्थान पर है। अगर उसे प्लेऑफ की उम्मीदों को कायम रखना है, तो हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी। वहीं इस मुकाबले में हार सीधे उसे खिताब की रेस से बाहर कर देगी। मुंबई के लिए चिंता की बात ये है कि इस सीजन 13 बार उसके बल्लेबाज बगैर खाता खोले ही पवेलियन लौटे हैं, जिनमें से 9 पहली ही गेंद यानी ‘गोल्डन डक’ का शिकार हो चुके हैं। खुद कप्तान रोहित शर्मा सबसे अधिक 3 बार जीरो पर आउट हो चुके हैं। उनके अलावा दो बार ईशान किशन ऐसा कर चुके हैं।

21 मुकाबलों में से 11 बार मुंबई ने जीत दर्ज की है, जबकि 10 बार पंजाब ऐसा कर चुका है। वहीं बात अगर वानखेड़े स्टेडियम की करें, तो यहां 7 में से 4 बार मेजबान पंजाब ने फतह हासिल की है। भले ही क्रिस गेल इस सीजन पहली बार पंजाब के लिए खेल रहें हों लेकिन उन्होंने मुंबई के खिलाफ 14 पारियों में 128.78 के स्ट्राइक से 519 रन बनाए हैं। गेंदबाजी की बात करें, तो इस सीजन वानखेड़े पेसर्स के लिए पसंदीदा मैदान है। यहां तेज गेंदबाजों ने 8.26 की इकॉनमी से 31 शिकार किए हैं।

मुंबई की परेशानी मध्यक्रम रहा है क्योंकि सूर्यकुमार यादव और इविन लुइस की सलामी जोड़ी ने उसे कभी निराश नहीं किया है। पिछले कुछ मैचों में मध्यक्रम की जिम्मेदारी कप्तान रोहित शर्मा ने अपने कंधों पर ले रखी है। एक बार फिर रोहित के जिम्मे ही मध्य क्रम की जिम्मेदारी होगी। टीम के लिए किरोन पोलार्ड, क्रुणाल पांड्या और उनके भाई हार्दिक का बल्ला चलना भी बेहद जरूरी है।

गेंदबाजी का भार जसप्रीत बुमराह और मिशेल मैक्लेघन ने अपने कंधों पर ले रखा है और अपनी जिम्मेदारी को भी बखूबी निभाया है। स्पिन विभाग में मयंक मारकंडे बड़ा रोल निभा सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App