ताज़ा खबर
 

मैरीकाम को 2 महीने में वापसी की उम्मीद

कोलकाता। ओलंपिक पदक विजेता मुक्केबाज एमसी मैरीकाम ने मंगलवार को कहा कि हैमस्ट्रिंग की चोट से वापसी करने में उन्हें करीब दो महीने लग जाएंगे। चोट की वजह से ही मैरीकाम 13 से 25 नवंबर के बीच दक्षिण कोरिया के जेजू में होने वाली महिलाओं की विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं ले रही हैं। […]

Author November 12, 2014 10:14 AM
मंगलवार को कोलकाता में हुए एक कार्यक्रम में भारत की मुक्केबाज चैंपियन मैरीकाम (बीच में), स्क्वाश चैंपियन दीपिका पल्लीकल (दाएं से दूसरी), एअर पिस्टल निशानेबाज हीना सिद्धू (बाएं) और पैरालंपिक ऊंची कूद एचएन गिरीश को सम्मानित किया गया।

कोलकाता। ओलंपिक पदक विजेता मुक्केबाज एमसी मैरीकाम ने मंगलवार को कहा कि हैमस्ट्रिंग की चोट से वापसी करने में उन्हें करीब दो महीने लग जाएंगे। चोट की वजह से ही मैरीकाम 13 से 25 नवंबर के बीच दक्षिण कोरिया के जेजू में होने वाली महिलाओं की विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं ले रही हैं। चोट की वजह से मैरीकाम से विश्व चैंपियनशिप में अपना छठा पदक जीतने का मौका छीन गया है।

2012 लंदन ओलंपिक खेलों की कांस्य पदक विजेता ने यहां एक सम्मान समारोह से इतर संवाददाताओं से कहा, ‘मैं पूरी तरह फिट नहीं हूं इसलिए मैं चैंपियनशिप में हिस्सा ना लेकर खुश हूं। वहां जाने और खाली हाथ लौटने का कोई तुक नहीं बनता। मैं जिस भी प्रतियोगिता में हिस्सा लेती हूं वहां देश के लिए पदक जीतना चाहती हूं।’

चोट से वापसी को लेकर उन्होंने कहा, ‘मैं धीरे-धीरे इस पर काम कर रही हूं और मुझे दो महीने में वापसी करने की उम्मीद है। मेरा अगला लक्ष्य 2016 के रियो आलंपिक खेलों के लिए क्वालीफाई करना है। पिंकी रानी ने घायल मैरीकाम की जगह ली है जबकि प्रियंका चौधरी को निलंबित मुक्केबाज सरिता देवी की जगह 10 सदस्यीय भारतीय दल में जगह दी गई है।

मैरीकाम ने कहा, ‘उम्मीद है कि वे अच्छा प्रदर्शन करेंगी और पदकों के साथ लौटेंगी।’ मैरीकाम को एशियाई खेलों के तीन और पदक विजेताओं-हीना सिद्धू (25 मीटर एअर पिस्टल), दीपिका पल्लीकल (स्कवाश) और एचएन गिरीशा (पैरालंपिक हाई जंपर) के साथ सम्मानित किया गया। उन्हें उनके प्रायोजक हर्बल लाइफ कंपनी ने सम्मानित किया।

पल्लीकल ने कहा, खेलों को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना जरूरी

कोलकाता: भारत की शीर्ष महिला स्क्वाश खिलाड़ी दीपिका पल्लीकल ने कहा कि भारत को खेलों में आगे लाने के लिए खेलों को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना बेहद जरू री है।

यहां एक सम्मान समारोह से इतर पल्लीकल ने कहा, ‘एक खिलाड़ी के तौर पर मेरा मानना है कि खेलों को साफ सुथरा बनाना बेहद जरू री है। महासंघ में भी खिलाड़ियों को होना चाहिए क्योंकि उन्हें पता होता है कि हमारी क्या स्थिति है। उन्होंने कहा कि हमें सरकारी धन भी आसानी से मिलना चाहिए।’
विश्व रैंकिंग में शीर्ष दस में पहुंची एकमात्र भारतीय पल्लीकल ने स्क्वाश के ओलंपिक का हिस्सा नहीं होने पर दुख जताया। उन्होंंने कहा कि जीतना नहीं बल्कि ओलंपिक का हिस्सा होना ही बहुत बड़ी बात है। पिछले साल स्क्वाश जब इस दौड़ में पिछड़ गया तो हम काफी दुखी, नाराज और मायूस थे।’
अपने अगले लक्ष्य के बारे में पल्लीकल ने कहा, ‘काहिरा में अगले महीने होने वाली विश्व चैंपियनशिप मेरा अगला लक्ष्य है। मेरे पास अभ्यास के लिए एक महीने का समय है जिसके बाद मैं मिस्र रवाना हो जाऊंगी।’

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App