ताज़ा खबर
 

दिग्गज ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने भारत को बता दिया स्वार्थी, कहा…

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बीसीसीआई को एडिलेड ओवल में दिन-रात्रि टेस्ट खेलने के लिए मनाने की कोशिश की लेकिन भारतीय बोर्ड ने इस पेशकश को यह कहते हुए ठुकरा दिया कि वह अभी ‘गुलाबी गेंद के क्रिकेट’ को खेलने के लिए तैयार नहीं है।

Author नई दिल्ली | May 16, 2018 8:19 PM
ऑस्ट्रेलियाई महान बल्लेबाज मार्क वॉ।

ऑस्ट्रेलियाई महान बल्लेबाज मार्क वॉ को लगता है कि भारत का इस साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया के दौरे के दौरान ‘दि -रात्रि’ टेस्ट खेलने से इनकार करना ‘स्वार्थी’ फैसला है। वॉ ने स्थानीय रेडियो स्टेशन पर ‘बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफास्ट’ शो पर कहा, ‘‘भारत के पक्ष की ओर से देखा जाए तो यह थोड़ा स्वार्थी फैसला है क्योंकि हमें क्रिकेट को बढ़ावा देने की जरूरत है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कुछ देशों में दिन-रात्रि टेस्ट क्रिकेट कुछ इस तरह का साबित होगा जो टेस्ट क्रिकेट को उसी रूप में बदल देगा जैसा इसे होना चाहिए। इसलिए सिर्फ ऑस्ट्रेलिया, भारत और इंग्लैंड ही ऐसे स्थान हैं जहां टेस्ट क्रिकेट बचा है और अच्छा चल रहा है। मेरे लिये यह चिंता की बात है।’’

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बीसीसीआई को एडिलेड ओवल में दिन रात्रि टेस्ट खेलने के लिए मनाने की कोशिश की लेकिन भारतीय बोर्ड ने इस पेशकश को यह कहते हुए ठुकरा दिया कि वह अभी ‘गुलाबी गेंद के क्रिकेट’ को खेलने के लिए तैयार नहीं है। वॉ जल्द ही ऑस्ट्रेलियाई टीम चयनकर्ता पद से हट जाएंगे, उन्होंने कहा कि वह समझ नहीं पा रहे हैं कि भारत ने दूधिया रोशनी में खेलने से इनकार क्यों किया। उन्होंने कहा, ‘‘उनकी टीम दिन-रात्रि क्रिकेट को अच्छी तरह खेल सकती है, उनके पास कई तेज गेंदबाज हैं इसलिए उन्हें सिर्फ स्पिनरों पर ही निर्भर रहने की जरूरत नहीं है और उनके बल्लेबाज भी तकनीकी रूप से बेहतरीन हैं।’’

वहीं, पूर्व ऑफ स्पिनर ग्रीम स्वान का मानना है कि इंग्लैंड के बल्लेबाजों को कलाई के स्पिनरों को समझने में थोड़ी मुश्किल होती है और भारत इंग्लैंड के दौरे के दौरान उनकी इस कमजोरी का फायदा उठा सकता है। भारतीय क्रिकेट टीम जुलाई और सितंबर 2018 के बीच पांच टेस्ट, तीन एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय और तीन ट्वेंटी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगी। स्वान ने कहा कि भारत के कलाई के स्पिनर इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

स्वान ने पत्रकारों से कहा, ‘‘कलाई के स्पिनर इंग्लैंड में अच्छा कर सकते हैं। यासिर शाह ने पिछले साल पाकिस्तान के लिए अच्छा किया है। इसलिए इंग्लैंड के खिलाड़ी कलाई की स्पिन फेंकने में परेशानी होती है और इसे खेलने में भी उन्हें दिक्कत होती है। अगर वे फिट हैं और इस कलाई के गेंदबाजों को चुना जाता है और ये गेंदबाजी करते हैं तो ये बहुत अच्छा कर सकते हैं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App