ताज़ा खबर
 

बुरे दौर में मिले, फिर हमेशा के लिए एक-दूजे के हो गए; बिल्कुल फिल्मी है सानिया मिर्जा-शोएब मलिक की लव स्टोरी

सानिया ने शोएब के साथ अपनी शादी के बारे में एक साक्षात्कार में बताया था, ‘हमें लगा कि हमारी शादी नहीं कर रहे हैं, बल्कि एक राष्ट्रीय टेलीविजन के लिए कुछ शूटिंग कर रहे हैं। हमारी शादी दोनों देशों में एक राष्ट्रीय और धार्मिक मुद्दा बन गई थी।’

sania shoaib love story marriageसानिया मिर्जा ने 12 अप्रैल 2010 को शोएब मलिक से निकाह किया था। (सोर्स- इंस्टाग्राम)

सभी जानते हैं कि जोड़ियां स्वर्ग में बनती हैं। यही कारण है कि कोई व्यक्ति चाहे कितनी भी कोशिश कर ले, लेकिन समय से पहले उसे अपना जीवनसाथी नहीं मिलता। भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा भी कुछ ऐसी ही स्थिति में थीं। उनकी लव स्टोरी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है। हैदराबाद में जन्मीं सानिया ने पहली बार 2009 में बचपन के दोस्त सोहराब से सगाई की। लेकिन फिर उनकी सगाई टूट गई।

यह वह समय था जब सानिया अपने पेशेवर जीवन के साथ-साथ निजी जिंदगी में बुरे दौर से गुजर रही थीं, फिर उनके जीवन में शोएब मलिक (पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान) आए। सानिया ने अपनी आत्मकथा में लिखा है कि वह शोएब से पहली बार कैसे मिली थीं। उन्होंने यह भी बताया कि बुरे समय में शोएब उनके जीवन में कैसे आए। सानिया और शोएब मलिक की पहली मुलाकात ऑस्ट्रेलिया में हुई थी। यह 2004 की बात है। तब शोएब और सानिया एक-दूसरे के नामों से परिचित थे। दोनों का होबार्ट के एक रेस्तरां में एक-दूसरे से आमना-सामना हुआ था। यह मुलाकात सिर्फ 2 मिनट की थी।

दूसरी मुलाकात तब हुई जब शोएब वकार यूनुस के साथ सानिया का मैच देखने आए थे। लेकिन तभी दोनों के बीच प्यार नाम की कोई बात नहीं थी। यह तब हुआ जब वे तीसरी बार मिले। तब सोहराब से सानिया की सगाई टूट चुकी थी। वह अपने पेशेवर जीवन में बुरे दौर से गुजर रही थीं। वह चोटों से जूझ रही थीं। वहीं, शोएब मलिक पाकिस्तानी टीम से बाहर थे।

जैसा कि लोग कहते हैं भाग्य के आगे किसी का बस नहीं चलता इन दोनों के साथ भी ऐसा ही हुआ। तीसरी बार दोनों मिले और फिर हमेशा के लिए एक-दूसरे का सहारा बन गए। दोनों ने करीब एक साल तक डेटिंग करने के बाद 2010 में शादी की। हालांकि, भारत और पाकिस्तान के बीच तनावपूर्ण संबंधों का असर उनकी शादी पर भी पड़ा। जब सानिया और शोएब की शादी की बात सामने आई, तो दोनों के फैंस इससे खुश होने के बजाय निराश हो गए।

सानिया ने शोएब के साथ अपनी शादी के बारे में एक साक्षात्कार में बताया था, ‘हमें लगा कि हमारी शादी नहीं कर रहे हैं, बल्कि एक राष्ट्रीय टेलीविजन के लिए कुछ शूटिंग कर रहे हैं। हमारी शादी दोनों देशों में एक राष्ट्रीय और धार्मिक मुद्दा बन गई थी। यही नहीं, तब लोगों ने हमारे बारे में कई अपमानजनक और भद्दी बातें कहीं, क्योंकि यह दोनों देशों के लिए सीमा पर लड़ाई जैसा मुद्दा था। कोई नहीं जानता कि हम इससे कितना परेशान थे।’

अपनी आत्मकथा में, सानिया ने यह भी बताया कि शादी के बाद शोएब से मिलने पर उनकी आंखों में आंसू थे। शोएब ने उनसे पूछा था, ‘लोगों ने कितना तुम्हें परेशान किया।’ सानिया ने यह भी कहा कि शोएब केवल उन्हें खुश देखना चाहते थे। इसलिए जवाब में मैंने उनसे सिर्फ इतना ही कहा, ‘अल्लाह उन सभी को माफ कर देगा।’ इसके बाद, दोनों कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और सिर्फ अपने रिश्ते और खेल पर ध्यान दिया। न केवल शोएब ने क्रिकेट में एक दमदार वापसी की, बल्कि सानिया ने भी अपने प्रदर्शन से सभी ट्रोलर्स को करारा जवाब दिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 10 साल तक एक टाइम ही खाकर किया गुजारा, टीम इंडिया की पूर्व कप्तान अब बनीं अर्जुन पुरस्कार विजेता
2 ‘शाहरुख खान-जूही चावला के लिए आसान नहीं था सौरव गांगुली को KKR से हटाना,’ बोले टीम के सीईओ वेंकी मैसूर
3 रविचंद्रन अश्विन ने बताया मांकडिंग का विकल्प, बल्लेबाजों को ‘फ्री हिट’ की तरह गेंदबाजों के लिए मांगी ‘फ्री बॉल’
ये पढ़ा क्या?
X