ताज़ा खबर
 

‘मेरा वजन 5 किलो कम हो गया, जैक लीच टॉयलेट में काट रहा था समय,’ बेन स्टोक्स ने सुनाया अपनी टीम का दुखड़ा

इंग्लैंड के स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने खुलासा किया है कि भारत के खिलाफ अहमदाबाद में चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के दौरान उनका और उनके साथियों का अचानक वजन कम हो गया था।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: March 9, 2021 2:37 PM
Ben Stokes Reveal India vs England Test Series Narendra Modi Stadiumबेन स्टोक्स ने खुलासा किया है कि उनका और उनके टीम के साथियों का चौथे और आखिरी टेस्ट के दौरान अचानक वजन घट गया था। (सोर्स- बीसीसीआई टीवी)

इंग्लैंड के स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने खुलासा किया है कि भारत के खिलाफ अहमदाबाद में चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के दौरान उनका और उनके साथियों का अचानक वजन कम हो गया था। दरअसल, मैच से पहले इंग्लैंड के खिलाड़ी पेट संबंधी बीमारी से पीड़ित हो गए थे। भारत ने पिछले सप्ताह चौथे टेस्ट मैच में पारी और 25 रन से जीत दर्ज करके चार मैचों की श्रृंखला 3-1 से अपने नाम की थी।

स्टोक्स ने ‘डेली मिरर’ से कहा, ‘खिलाड़ी पूरी तरह से इंग्लैंड के प्रति प्रतिबद्ध हैं। मुझे लगता है कि पिछले सप्ताह यह देखने का मिला जब हम में से कुछ खिलाड़ी बीमार पड़ गए थे। ऐसे में 41 डिग्री तापमान में खेलना वास्तव में मुश्किल था।’ उन्होंने कहा, ‘मेरा एक सप्ताह में पांच किलो वजन कम हुआ। डॉम सिब्ली का चार किलो और जिम्मी एंडरसन का तीन किलो वजन कम हुआ। जैक लीच गेंदबाजी स्पैल के बीच मैदान छोड़कर जा रहा था। वह शौचालय (टॉयलेट) में ज्यादा समय बिता रहा था।’

ऋषभ पंत के 101 और वॉशिंगटन सुंदर के नाबाद 96 रन की मदद से भारत ने अपनी पहली पारी में 365 रन बनाए। भारत ने इसके बाद इंग्लैंड को 135 रन पर आउट करके मैच जीता था। स्टोक्स ने कहा, ‘यह किसी तरह का बहाना नहीं है, क्योंकि हर कोई खेलने के लिए तैयार था। भारत और विशेषकर ऋषभ पंत ने बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन हमारे खिलाड़ियों ने जिस तरह से इंग्लैंड की जीत के लिए हरसंभव प्रयास किया, उसके लिये मैं उनकी सराहना करता हूं।’

इंग्लैंड की टीम को टेस्ट सीरीज में लचर प्रदर्शन के लिए कुछ पूर्व खिलाड़ियों की आलोचना का सामना करना पड़ा, लेकिन स्टोक्स ने कहा कि यह महत्वपूर्ण कि खिलाड़ी इन चीजों पर ध्यान देने के बजाय अपने खेल को सुधारने पर गौर करें। स्टोक्स ने कहा, ‘क्रिकेट पंडित अपनी भूमिका निभा रहे हैं। यह अच्छा है, लेकिन हमें बेहतर खिलाड़ी या बेहतर टीम बनाना उनकी जिम्मेदारी नहीं है। यह हमारा काम है और हमें इस पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।’

उन्होंने कहा, ‘आपके कप्तान, आपके कोच और आपके साथियों के विचार मायने रखते हैं, जो कि एक अच्छी टीम और आपको बेहतर से बेहतर खिलाड़ी बनाने का प्रयास करते हैं। हमारे कई खिलाड़ियों का यह पहला भारत दौरा था और उनको इससे काफी सीख मिली।’

Next Stories
1 सौरव गांगुली करेंगे राजनीति में एंट्री? करियर की अगली पारी के बारे में यह बोले BCCI अध्यक्ष
2 चोट के कारण केन विलियमसन बांग्लादेश सीरीज से बाहर; IPL 2021 में भी लग सकता है सनराइजर्स हैदराबाद को झटका
3 रंगना हेराथ-सनथ जयसूर्या की कातिलाना गेंदबाजी के बाद तिलकरत्ने दिलशान ने जड़ी तूफानी फिफ्टी, श्रीलंका लीजेंड्स ने की भारत की बराबरी
आज का राशिफल
X