ताज़ा खबर
 

Covid-19: लॉकडाउन के बीच दुबई में मैराथन, घरों में दौड़ेंगे 62 देशों के 749 रेसर

मैराथन में हिस्सा लेने वाले प्रतिभागी अपने रनिंग कोर्स का आकार तय करने के लिए स्वतंत्र हैं, लेकिन ट्रेडमिल या किसी अन्य ट्रेनिंग इक्विप्मन्ट (उपकरण) पर चलने की अनुमति नहीं है। सार्वजनिक क्षेत्र में भी चलने की अनुमति नहीं है।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: April 10, 2020 8:43 AM
यह दुनिया की पहली होम मैराथन है। इसमें हिस्सा लेने वालाों में 526 पुरुष और 223 महिलाएं हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

इस समय सारी दुनिया कोरोनावायरस की विभीषिका से जूझ रही है। दो सौ से ज्यादा देशों में लॉकडाउन है। भारत में भी 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है। मौजूदा हालात को देखते हुए इसकी अवधि बढ़ने की आशंका है। इसी कारण दुनिया भर में खेल गतिविधियां ठप हैं। इस बीच, खेल प्रेमियों के लिए अच्छी खबर आई है। कोरोना के कहर के बीच दुबई में मैराथन होगी।

चौंकिए नहीं, इस रेस के लिए धावक को सड़कों पर उतरने की जरूरत नहीं पड़ेगी। वे अपने-अपने घरों पर ही यह दौड़ पूरी करेंगे। इस मैराधन में 62 देशों के 749 धावक हिस्सा लेंगे। इसमें संयुक्त अरब अमीरात, कुवैत, सऊदी अरब, ओमान, बहरीन और जॉर्डन के धावक भी शामिल हैं। ये सभी धावक अपने-अपने घरों में 42.195 किलोमीटर की दूरी तय करेंगे। मैराथन शुक्रवार सुबह स्थानीय समयानुसार 8 बजे से शाम 6 बजे तक चलेगी।

यह दुनिया की पहली होम मैराथन है। इस मैराथन का आयोजन दुबई स्पोर्ट्स काउंसिल के ‘बी फिट, बी सेफ’ (फिट रहें, सुरक्षित रहें) अभियान के तहत दुबई स्पोर्ट्स काउंसिल, एएसआईसीएस मिडिल ईस्ट और 5:30 रन क्लब करा रहे हैं। मैराथन में हिस्सा लेने वालाों में 526 पुरुष और 223 महिलाएं शामिल हैं।

सबसे युवा रेसर की उम्र 18 साल, जबकि सबसे उम्रदराज की आयु 65 साल है। इस मैराथन का आयोजन दुबई स्पोर्ट्स काउंसिल के ‘बी फिट, बी सेफ’ (फिट रहें, सुरक्षित रहें) अभियान के तहत दुबई स्पोर्ट्स काउंसिल, एएसआईसीएस मिडिल ईस्ट और 5:30 रन क्लब करा रहे हैं।

प्रतिभागी अपने रनिंग कोर्स का आकार तय करने के लिए स्वतंत्र हैं, लेकिन ट्रेडमिल या किसी अन्य ट्रेनिंग इक्विप्मन्ट (उपकरण) पर चलने की अनुमति नहीं है। सार्वजनिक क्षेत्र में भी चलने की अनुमति नहीं है। रनिंग निश्चित रूप से शारीरिक रूप और घर के अंदर होनी चाहिए। प्रतिभागियों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके पास फुल चार्ज की गई स्मार्टवॉच या स्मार्टफोन हो और उसमें Strava app (स्ट्रवा ऐप) इंस्टॉल किया गया हो और एक्टिव हो। उन्हें स्ट्रवा पर ‘मैराथन एट होम’ समूह से जुड़े रहना होगा, क्योंकि ऐप उनके मूवमेंट का पता लगाएगा। ऐप से पता चलेगा कि प्रतिभागी ने कितने समय में कितनी दूरी (रनिंग) तय की है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें:
कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा
जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए
इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं
क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 केविन पीटरसन ने ‘स्विच हिट’ को किया याद, युवराज सिंह ने कहा- फिसल भी जाते थे आप; देखें VIDEO
2 लॉकडाउन में नताशा स्टेनकोविक बनीं COOK, हार्दिक पंड्या के लिए बनाया स्पेशल डिश
3 पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने की विराट कोहली की तारीफ, ‘उनसे कभी पंगा मत लेना, इसी में है भलाई’