ताज़ा खबर
 

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने बहाए ‘घड़ियाली आंसू,’ कहा- दबाव के कारण स्लेजिंग की, माफी मांगता हूं

टिम पेन ने भारत के खिलाफ ड्रॉ हुए सिडनी टेस्ट के दौरान मैदान पर अपने बर्ताव के लिए माफी मांगी है। उन्होंने कहा कि उनकी कप्तानी अच्छी नहीं थी और रविचंद्रन अश्विन से छींटाकशी करके वे ‘बेवकूफ जैसे’ नजर आए।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: January 12, 2021 11:11 AM
Ravichandran Ashwin Tim Paine India vs Australiaअंपायर के फैसले का विरोध करने के लिए टिम पेन पर मैच फीस का 15 प्रतिशत जुर्माना भी लगाया गया है। (सोर्स- एपी/पीटीआई)

ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट क्रिकेट टीम के कप्तान ‘घड़ियाली आंसू’ बहा रहे हैं। जी हां, टिम पेन सिडनी में ‘स्लेजिंग’ जैसी गलती करने के बाद अब माफी मांग रहे हैं। उनकी दलील है कि वह मैच के दौरान दबाव उन पर हावी हो गया था। इसके चलते रविचंद्रन अश्विन से ‘बदतमीजी’ की। टिम पेन ने भारत के खिलाफ ड्रॉ हुए सिडनी टेस्ट के दौरान मैदान पर अपने बर्ताव के लिए माफी मांगी है। उन्होंने कहा कि उनकी कप्तानी अच्छी नहीं थी और रविचंद्रन अश्विन से छींटाकशी करके वे ‘बेवकूफ जैसे’ नजर आए।

पेन को उस समय आलोचना का सामना करना पड़ा जब उन्होंने अश्विन के साथ छींटाकशी की, जो चोटिल हनुमा विहारी के साथ मिलकर भारत को हार बचाने की कवायद में जुटे थे। भारत 407 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए मैच ड्रॉ कराने में सफल रहा। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि मैच के दौरान कई बार उनका ध्यान भटका, वह गुस्से थे और उत्तेजित भी हुए। पेन को आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस के लिए नहीं आना था, लेकिन वह इसके लिए पहुंचे। उन्होंने कहा, ‘मैंने कल मैच के बाद तुरंत उससे (अश्विन से) बात की, मैंने उससे कहा, देखो अंत में ऐसा लगा जैसे मैं बेवकूफ हूं, क्या मैंने ऐसा नहीं किया? आप मुंह खोलते हो और फिर कैच टपका देते हो।’

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि उन्होंने मीडिया से बात करने का फैसला किया, क्योंकि उन्हें कल की कुछ बातें स्पष्ट करनी थी। उन्होंने कहा, ‘मैं इस टीम की अगुआई करने के अपने तरीके पर गर्व करता हूं, इसलिए कल जैसे चीजें घटी उसके लिए माफी मांगना चाहता हूं।’ पेन ने तीन कैच छोड़े जिसमें अश्विन से बहस के बाद टपकाया गया विहारी का कैच भी शामिल था।

इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने स्वीकार किया कि मैच का दबाव उन पर हावी हो गया। इससे उनका मूड प्रभावित हुआ। पेन ने कहा, ‘मेरी कप्तानी अच्छी नहीं थी, मैंने मुकाबले के दबाव को हावी होने दिया, यह मुझ पर हावी हो गया और इससे मेरा मूड प्रभावित हुआ और इसका मेरे प्रदर्शन पर असर हुआ।’ उन्होंने कहा, ‘कल मैं अपनी उम्मीदों और हमारी टीम के स्तर पर खरा नहीं उतरा।’

पेन के अनुसार सोमवार को उनका बर्ताव उस तरीके की छवि नहीं थी, जिस तरह वह ऑस्ट्रेलियाई टीम की अगुआई करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘इसलिए कल की गई गलतियों के लिए मैं माफी मांगना चाहता हूं। निश्चित तौर पर यह उसकी छवि नहीं थी जिस तरह मैं इस टीम की अगुआई करना चाहता हूं।’ अंपायर के फैसले का विरोध करने के लिए पेन पर रविवार को मैच फीस का 15 प्रतिशत जुर्माना भी लगाया गया था। पेन ने अंपायरों के साथ बर्ताव के लिए भी माफी मांगी।

उन्होंने कहा, ‘मैं जिस तरह इससे निपटा उसे लेकर बेहद निराश हूं। मैंने दूसरे दिन की शुरुआत में जिस तरह अंपायरों से बात की वह भी अस्वीकार्य है।’ पेन ने यह भी स्वीकार किया कि वह अपने स्वयं के स्तर पर और निश्चित नैतिक मूल्यों के अनुसार खेल को खेलने की उम्मीदों पर भी खरे नहीं उतरे। अश्विन के साथ बहस के दौरान अपशब्द का इस्तेमाल करने वाले पेन ने कहा, ‘मैं एक बार फिर अपने प्रशंसकों और लोगों से माफी मांगना चाहता हूं जिन्होंने कल मेरी कही कुछ बातें सुनी, यह सही नहीं थी विशेषकर टीम के कप्तान के मुंह से।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 टीम इंडिया की मुश्किलें बढ़ीं; अब स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के पेट में खिंचाव, ब्रिस्बेन टेस्ट से बाहर
2 Syed Mushtaq Ali Trophy: नीतीश राणा ने दिल्ली को जिताया, शिवम दुबे का तूफानी अर्धशतक बेकार; बिहार पहले मैच में जीता
3 जल्द आएगी MS Dhoni की वेब सीरीज? समझिए साक्षी धोनी की इस पोस्ट के क्या हैं मायने
ये पढ़ा क्या?
X