बाबर आजम के खिलाफ FIR के आदेश, पाक क्रिकेट कप्तान पर है महिला को धमकाने और ब्लैकमेल करने का आरोप

फेडरल इनवेस्टीगेशन एजेंसी ने बताया कि बाबर की जगह उनके भाई फैसल अहमद पेश हुए। उन्होंने बाबर का बयान रिकॉर्ड करने के लिए एफआईए से कुछ समय तक इंतजार करने की गुजारिश की। हालांकि, बाबर अब तक जांच के लिए पेश नहीं हुए हैं।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: March 19, 2021 5:43 PM
Pakistan Captain Babar Azam Media Gaddafi Stadium Lahore Harassment Caseलाहौर की एक अदालत ने उत्पीड़न से जुड़े एक मामले में पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए हैं। (सोर्स -ट्विटर)

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान बाबर आजम की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। लाहौर की एक अदालत ने उत्पीड़न से जुड़े एक मामले में फेडरल इनवेस्टीगेशन एजेंसी (FIA) के साइबर क्राइम सर्किल को बाबर आजम के खिलाफ प्राथमिकी (FIR) दर्ज करने के आदेश दिए हैं। न्यायधीश हामिद हुसैन ने एक महिला हमिजा मुख्तार की याचिका पर गुरुवार को लाहौर में यह आदेश दिया। बाबर आजम पर एक महिला को धमकाने, परेशान करने और ब्लैकमेल करने के आरोप हैं।

इस महिला ने दावा किया है कि पाकिस्तानी कप्तान के खिलाफ मामला दायर करने के बाद उन्हें वाट्सएप पर धमकी भरे संदेश मिल रहे हैं। सुनवाई के दौरान जांच एजेंसी के अधिकारियों ने अदालत को बताया कि हमिजा ने साइबर अपराध से जुड़े विभाग में शिकायत दर्ज कराई थी। जांच करने पर पता चला कि जिन नंबरों से धमकी भरे संदेश भेजे गए उनमें से एक फोन नंबर बाबर आजम का है। हमिजा ने आरोप लगाया कि उन्हें विभिन्न नंबरों से वाट्सएप पर लगातार धमकी भरे संदेश मिल रहे हैं। एक अज्ञात व्यक्ति उन्हें ब्लैकमेल कर रहा है।

पीड़ित महिला के मुताबिक, ब्लैकमेलिंग करने वाले शख्स का दावा है कि उसके पास उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें और वीडियो हैं। वह इन्हें सोशल मीडिया पर अपलोड करने की धमकी दे रहा है। हमिजा ने इससे पहले बाबर आजम के खिलाफ शारीरिक उत्पीड़न और यौन उत्पीड़न के आरोप भी लगाए थे। हमिजा ने दावा किया है कि फोन करने वालों ने बाबर के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू करने पर उसे भयानक नतीजे भुगतने की धमकी दी थी।

न्यायाधीश हामिद हुसैन ने कानूनी औपचारिकताओं के बाद निर्धारित समय के भीतर दोषियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के संबंध में आगे की कार्रवाई करने का आदेश दिया। पाकिस्तानी न्यूज वेबसाइट डॉन के मुताबिक, पाकिस्तान की महिला हमिजा ने अज्ञात कॉल करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए एफआईए में शिकायत की थी।

एफआईए की रिपोर्ट के अनुसार, कॉल रिकॉर्ड से पता चला है कि फोन नंबर्स मोहम्मद बाबर, मरियम अहमद और सलेमी बीबी के हैं। एफआईए ने इन तीनों का पक्ष जानने के लिए उन्हें नोटिस भेजे। एफआईए के मुताबिक, तीन में से सिर्फ मरियम अहमद ही पेश हुए। उन्होंने पूछताछ में याचिकाकर्ता हमिजा को जानने और उन्हें आपत्तिजनक मैसेज भेजने के आरोप से इनकार किया।

एफआईए ने बताया कि उसने इस मामले में बाबर को 18 जनवरी को तलब किया था। बाबर की जगह उनके भाई फैसल अहमद पेश हुए। उन्होंने बाबर का बयान रिकॉर्ड करने के लिए एफआईए से कुछ समय तक इंतजार करने की गुजारिश की। हालांकि, बाबर अब तक जांच के लिए पेश नहीं हुए हैं।

जीवन में बाधाओं का आदी हूं: बाबर आजम

इस बीच, बाबर आजम का कहना है कि उनकी फॉर्म उन पर लगे उत्पीड़न के मामले से प्रभावित नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि बतौर खिलाड़ी वह जीवन की परेशानियों का सामना करने के आदी हैं। आजम ने स्पष्ट किया कि व्यक्तिगत मुद्दों से दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे के आगामी दौरे पर उनका क्रिकेट प्रभावित नहीं होगा।

उन्होंने शुक्रवार को यहां वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘यह मेरा व्यक्तिगत मामला है और यह अदालत में है और मेरा वकील इसे देख रहा है। हमें जीवन में काफी तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मैं इसका आदी हूं। इस मुद्दे से मेरी फॉर्म या क्रिकेट प्रभावित नहीं हुआ है।’

Next Stories
1 सलमान नहीं सौरव गांगुली को देख शाहरुख ने उतारी थी शर्ट, किंग खान ने सचिन के लिए कही थी बड़ी बात
2 India vs England: वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान, सूर्यकुमार यादव समेत ये 3 नए खिलाड़ी चुने गए
3 ‘सबूतों के अभाव’ की बलि चढ़े सूर्यकुमार यादव, भड़के विराट कोहली ने अंपायर्स पर यह नियम लगाने की मांग की
यह पढ़ा क्या?
X