ताज़ा खबर
 

अश्विन और जडेजा को टीम से बाहर करवाना चाहते हैं कुलदीप यादव? क्रिकेटर ने दिया ये जवाब

कुलदीप यादव का कहना है कि अश्विन और रवींद्र जडेजा के साथ कॉम्पिटिशन करने का सवाल कहां से पैदा हुआ, वह नहीं जानते, बल्कि वह दोनों ही खिलाड़ियों को बड़ा भाई मानते हैं।

चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव।

इंडियन क्रिकेट टीम में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे युवा गेंदबाजों के उभरने के साथ आर अश्विन और रवींद्र जडेजा के विश्वकप-2019 में खेलने की संभावनाओं को लेकर इस वक्त मीडिया में काफी चर्चा हो रही है। इस मामले पर अब खुद कुलदीप यादव ने चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने अश्विन और जडेजा को बड़े भाई की तरह बताया है। क्रिकेटनेक्स्ट से बात करते हुए यादव ने कहा कि दोनों क्रिकेटर्स के साथ कॉम्पिटिशन करने का सवाल कहां से पैदा हुआ, बल्कि वह दोनों ही खिलाड़ियों को बड़ा भाई मानते हैं।

उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि तुलना करने वाली बात कहां से आई। हां, चहल और मैंने लिमिटेड ओवर्स के फॉरमेट में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि हम अश्विन और जडेजा से कॉम्पिटिशन कर रहे हैं। आप जरा उनके रिकॉर्ड्स को देखिए और जानिए कि उन्होंने कितना अच्छा किया है। हम लोगों ने तो अभी केवल शुरुआत की है और मेरे लिए तो वे दोनों क्रिकेटर्स मेंटर्स हैं। मैं हमेशा उनसे गाइडेन्स लेता आया हूं। उन्होंने हमेशा ही मुझे गाइड किया है। उन्होंने हमेशा ही मुझे बताया है कि मुझे कैसे खेलना चाहिए और किस स्थिति में क्या करना चाहिए। मैं साफ करना चाहता हूं कि दोनों क्रिकेटर्स से कोई कॉम्पिटिशन नहीं है।’

श्रीलंका के साथ होने वाली टेस्ट सीरीज में रिद्धिमान साहा द्वारा विकेटकीपिंग करने के सवाल पर कुलदीप यादव ने कहा, ‘साहा काफी अच्छे हैं। वह अपने इनपुट्स के माध्यम से आपको गाइड करने का काम करते हैं, हां लेकिन महेंद्र सिंह धोनी का अपना अलग स्टाइल है। उनके साथ आपको केवल 40 फीसदी काम करने की जरूरत होती है। बाकी 60 फीसदी वो खुद आपके लिए कर देते हैं। वह गेंदबाजी होने से पहले ही बल्लेबाज के दिमाग को पढ़ लेते हैं। वे इसमें काफी निपुण हैं। लोगों को तुलना करना काफी पसंद है, तो मैं कहना चाहता हूं कि साहा और धोनी दोनों ही काफी शांति के साथ खेलते हैं और उनके काम से गेंदबाज के लिए आसानी हो जाती है।’ बता दें कि टेस्ट मैचों से धोनी ने संन्यास ले लिया है, इसलिए रिद्धिमान साहा इस फॉरमेट में विकेटकीपिंग करते हैं। भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ 16 नंवबर से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए पूरी तरह से तैयार है। भारत ने इस साल जुलाई-अगस्त में श्रीलंका को तीन टेस्ट मैचों सीरीज में 3-0 से हराया था।

भारतीय टीम (पहले दो टेस्ट मैचों के लिए) :
विराट कोहली (कप्तान), लोकेश राहुल, मुरली विजय, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), रोहित शर्मा, रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार और ईशांत शर्मा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App