गांगुली की मदद से अनिल कुम्‍बले बने भारतीय टीम के कोच, बोर्ड ने भी बदले नियम-कायदे - Jansatta
ताज़ा खबर
 

गांगुली की मदद से अनिल कुम्‍बले बने भारतीय टीम के कोच, बोर्ड ने भी बदले नियम-कायदे

अनिल कुम्‍बले को भारतीय क्रिकेट टीम का नया कोच नियुक्‍त कर दिया गया है। कुम्‍बले का नाम सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्‍मण ने चुना।

अनिल कुम्‍बले को भारतीय क्रिकेट टीम का नया कोच नियुक्‍त कर दिया गया है।

अनिल कुम्‍बले को भारतीय क्रिकेट टीम का नया कोच नियुक्‍त कर दिया गया है। कुम्‍बले का नाम सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्‍मण ने चुना। रवि शास्‍त्री भी कोच पद के लिए बड़े दावेदार थे लेकिन कुम्‍बले का दावा आखिर में मजबूत साबित हुआ। रवि शास्‍त्री को पक्ष में टेस्‍ट टीम के कप्‍तान विराट कोहली भी थे। जानकारी के अनुसार अनिल कुम्‍बले का नाम शॉर्टलिस्‍ट की गई 21 लोगों की सूची में नहीं था।

शास्त्री को पछाड़ टीम इंडिया के हेड कोच बने अनिल कुंबले

बताया जा रहा है कि कुम्‍बले की नियुक्ति में सबसे बड़ी भूमिका सौरव गांगुली ने निभाई। इसके साथ ही 16 साल में पहली बार टीम इंडिया को देशी कोच मिला है। हालांकि रवि शास्‍त्री भी टीम के साथ थे लेकिन वे डायरेक्‍टर की भूमिका में थे। गांगुली, लक्ष्‍मण और तेंदुलकर की कमिटी ने ही कुम्‍बले का नाम अंतिम 21 में शामिल करने को कहा था। इसके चलते बीसीसीआर्इ को चयन की योग्‍यता के नियमों में बदलाव करना पड़ा और कहा गया कि एडवाइजरी पैनल अपनी पसंद के व्यक्ति का चुनाव भी कर सकता है। इससे साफ होता है कि कुम्‍बले का नाम बाद में शामिल किया गया।

Indian Cricket Team के कोच बने Anil Kumble, जानें उनसे जुड़े दिलचस्‍प FACTS

indian cricket team, indian cricket team coach, team india coach, india cricket coach, bcci president, anurag thakur, cricket  45 साल के कुंबले अपने दो दशक लंबे करियर में भारत के लिए 132 टेस्‍ट मैच और 271 वनडे खेल चुके हैं। (ALL PHOTOS: Express archive)

गांगुली बोर्ड सचिव अजय शिरके के साथ धर्मशाला गए थे। इसके बाद बीसीसीआई अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर से उनकी बंद कमरे में बैठक हुई। अनिल कुम्‍बले को कोच बनाने के एलान से साफ हुआ कि बोर्ड उनके लिए नियमों में बदलाव और छूट देने को तैयार था। कुम्‍बले के पास कोचिंग का कोई अनुभव नहीं है। ठाकुर ने कांफ्रेंस में बताया कि पैनल ने कुछ नाम बताए थे और कुम्‍बले भी इसमें शामिल थे। कुम्‍बले के नाम के एलान से पहले सभी लोगों से बात की गई और इसके बाद एक साल का कार्यकाल भी तय किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App