ताज़ा खबर
 

कैरिबियन प्रीमियर लीग में केरॉन पोलार्ड की इस हरकत पर लोग उन्हें जमकर सुना रहे खरी-खोटी

फिलहाल क्रिस गेल के नाम सबसे तेज 30 गेंदों में टी20 शतक लगाने का रिकॉर्ड है।

नो बॉल फेंकते वेस्टइंडीज के केरॉन पोलार्ड।

कैरिबियाई प्रीमियर लीग में वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज केरॉन पोलार्ड की नो बॉल फेंकने के कारण खूब आलोचना हो रही है। उनकी इस हरकत के कारण विपक्षी टीम के बल्लेबाज इविन लुइस टी20 इतिहास की दूसरी सबसे तेज सेंचुरी बनाने से चूक गए। उस वक्त सेंट किट्स एंड नेविस पैट्रियॉट्स को जीत के लिए एक रन की जरूरत थी और लुइस 32 गेंदों में 97 रन बनाकर खेल रहे थे। अगर पोलार्ड नो बॉल नहीं फेंकते तो लुइस शतक ठोक देते। अपनी पारी में लुइस ने 6 चौके और 11 छक्के लगाए। सिर्फ 19 गेंदों में उन्होंने अर्धशतक ठोक दिया। बर्बाडोज ट्रीडेंट्स के कप्तान पोलार्ड की यह हरकत देख सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा भड़क उठा। लोगों ने इसे जानबूझकर की गई हरकत बताया। सेंट किट्स एंड नेविस पैट्रियॉट्स और बर्बाडोज ट्रीडेंट्स के बीच खेला गया मैच पोलार्ड की नो बॉल के साथ खत्म हो गया। रिप्ले में साफ दिख रहा था कि 101 वनडे और 55 टी20 मैच खेलने वाले वेस्टइंडीज के अॉल राउंडर केरॉन पोलार्ड ने इस मैच को खत्म करने के लिए नो बॉल फेंकी और उनका पैर भी लाइन से काफी आगे था।

न्यू जीलैंड के पूर्व टेस्ट गेंदबाज और कॉमेंटेटर डैनी मॉरिसन ने मैच के अंत को निराशजनक बताया। उन्होंने कहा, लुइस की पारी शतक डिजर्व करती थी और मुझे यह कहना पड़ेगा कि मैं मैच को लेकर बहुत उत्साहित था। लेकिन जिस तरह पोलार्ड ने मैच को खत्म किया वह निराशानजक था। पत्रकार मजहर अरशद ने क्रिकेट इतिहास में हुए एेसे ही एक अन्य मामले के बारे में बताया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, केरॉन पोलार्डने सीपीएल में इविन लुइस को शतक बनाने से रोकने के लिए नो बॉल फेंकी।

सूरज रणदीव को एक मैच के लिए सस्पेंड कर दिया गया था, जब साल 2010 में उन्होंने सहवाग के साथ एेसा किया था। गौरतलब है कि फिलहाल क्रिस गेल के नाम सबसे तेज 30 गेंदों में टी20 शतक लगाने का रिकॉर्ड है। अगर लुइस 33 गेंदों में शतक लगा देते तो वह गेल के बाद दूसरे स्थान पर होते। वनडे में वेस्टइंडीज के खिलाफ साल 2015 में एबी डिविलियर्स ने 31 गेंदों में शतक जड़ा था।

देखें वीडियो ः

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App