ताज़ा खबर
 

विराट कोहली के प्रहार से घबरा गए थे जसप्रीत बुमराह, करियर पर लग सकता था ग्रहण; सचिन तेंदुलकर की सलाह से मिली सफलता

जसप्रीत बुमराह ने 2016 में अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत की थी। इससे तीन साल पहले उन्होंने अपना पहला आईपीएल मैच खेला था। बुमराह ने अब तक 92 आईपीएल मैचों में 109 विकेट चटकाए हैं। इस लीग में उनकी एंट्री कहानी काफी रोचक है।

Jasprit Bumrah, Vikram Sathaye, interview, RCB, Virat Kohliजसप्रीत बुमराह घरेलू क्रिकेट में गुजरात की ओर से खेलते हैं। (सोर्स – सोशल मीडिया

दुनिया के बेहतरीन गेंदबाजों में से एक जसप्रीत बुमराह ने 2016 में अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत की थी। इससे तीन साल पहले उन्होंने अपना पहला आईपीएल मैच खेला था। बुमराह ने अब तक 92 आईपीएल मैचों में 109 विकेट चटकाए हैं। इस लीग में उनकी एंट्री कहानी काफी रोचक है। बुमराह ने इस बारे में एक इंटरव्यू में बताया था। उन्होंने इस दौरान यह भी कहा था कि किस तरह टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने उनके पहले ही मैच में जमकर कुटाई की थी। इसके बाद सचिन तेंदुलकर की सलाह उनके काम आई थी।

बुमराह ने विक्रम साठये को एक इंटरव्यू दिया था। इसमें उनसे पूछा गया कि सबसे पहले उन्हें किसने नोटिस किया था? इस पर बुमराह ने तपाक से कहा, ‘जॉन राइट।’ भारत के पूर्व कोच जॉन राइट उस दौरान मुंबई इंडियंस के साथ जुड़े हुए थे। उनकी कोचिंग में टीम इंडिया 2003 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची थी। बुमराह ने आगे कहा, ‘वह साल अंडर-19 क्रिकेट में मेरा लास्ट ईयर था। मैं गुजरात की ओर से खेल रहा था। मैं सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेला था। पहला मैच मुंबई के खिलाफ था। उस मैच को देखने के लिए जॉन राइट आए थे। उन्होंने दो मैच देखे थे।’’

‘पाकिस्तानी खिलाड़ी देते हैं सबसे ज्यादा गालियां, ऑस्ट्रेलिया के प्लेयर मारते हैं सबसे ज्यादा लाइन’; वीरेंद्र सहवाग ने कपिल शर्मा के शो पर किया था खुलासा

बुमराह ने आगे बताया, ‘‘इसके बाद मुझे मुंबई इंडियंस से फोन आया कि हम आपको अपने साथ जोड़ना चाहते हैं क्या आप तैयार हैं? इस पर मैंने तुरंत ही हां कह दिया। मुंबई के साथ पहला दिन अलग ही था। हमारी टीम बेंगलुरु में थी। मैं गुजरात की ओर से खेल रहा था। फाइनल के बाद सीधा बेंगलुरु गया। इसके बाद वहां नेट सेशन में हिस्सा लिया था। मेरा पहला मैच रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु से था। मैं गेंदबाजी कर रहा था। मैच से पहले वहां बारिश हुई थी। वहां गिला था। मैं किसी को यह कहने में डर रहा था कि मैं पैर स्लीप हो रहा था। शुरुआती चार गेंद पर विराट कोहली ने तीन चौके मार दिए थे।’’

बुमराह ने आगे कहा, ‘‘उस समय मैं किसी को अपनी समस्या नहीं बताता तो मेरा लास्ट मैच होता। फिर मैंने उन्हें (सचिन) को बताया। इस पर उन्होंने कहा कि घबराओ नहीं, एक अच्छी गेंद से सबकुछ ठीक हो जाएगा। इसके बाद अगली ही गेंद पर मैंने कोहली को आउट कर दिया। मैंने तीन विकेट लिए थे। कोहली, मयंक अग्रवाल और करुण नायर। हम मैच हार गए, लेकिन खुशी थी मेरा प्रदर्शन ठीक था। हमारे मीडिया मैनेजर ने बताया कि अमिताभ बच्चन ने मेरे लिए ट्वीट किया है। उस समय मुझे ट्विटर के बारे में पता नहीं था।’’

Next Stories
1 विराट कोहली को हमेशा खलेगा 2020: ना IPL चैंपियन बन पाए, एक भी शतक नहीं लगाया; सभी टेस्ट हारे, न्यूनतम स्कोर का दाग भी लगा
2 सात साल बाद क्रिकेट में वापसी पर ‘भावुक’ हुए श्रीसंत, संजू सैमसन की कप्तानी में खेलेंगे टी20 टूर्नामेंट
3 परिवार संग रणथंभौर जा रहे मोहम्मद अजहरुद्दीन की कार पलटी, हादसे में बाल-बाल बचे; एक युवक घायल
ये पढ़ा क्या?
X