ताज़ा खबर
 

बल्लेबाजों से पिटकर ही सीखते हैं बोलर्स, जानें किसका बचाव कर रहे बुमराह?

न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए दूसरे टी-20 मैच के बाद बुमराह ने कहा- एक गेंदबाज के रूप में जब आपको निशाना बनाया जाता है तो आपको काफी कुछ सीखने को मिलता है।
भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Photo: BCCI)

भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का कहना है कि बल्लेबाजों से पिटकर ही कोई भी गेंदबाज अच्छा खेलना सीखता है। उन्होंने यह बात शनिवार को राजकोट में भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए तीन मैचों की सीरीज के दूसरे टी-20 मैच में महंगे साबित हुए पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज के समर्थन में कही। उन्होंने कहा कि यह मैच सिराज का पहला मैच था और वह अभी सामंजस्य बैठाना सीख रहा है, जिसमें समय लगता है। बुमराह ने कहा, ‘मुश्किल विकेट पर गेंदबाजी करना भी आसान नहीं होता। वह नया है, सामंजस्य बैठाने में समय लगता है और वह सीख रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘जब आप बल्लेबाजों से पिटते हैं तब आप काफी कुछ सीख सकते हैं। एक जगह पर बैठकर ये कहना कि तुम्हें अच्छा करना चाहिए था, तुमसे उम्मीद थी, काफी आसान है, लेकिन एक गेंदबाज के तौर पर कई बार मुश्किलों का सामना करना पड़ता है और एक नए खिलाड़ी के तौर पर मुश्किल विकेट पर गेंदबाजी करना आसान नहीं होता। मैं केवल उसे कॉन्फिडेंस देने की कोशिश कर रहा था कि ऐसा होता है। गेंदबाज कई बार पिट जाते हैं। बल्लेबाजों से पिटकर ही तुम सीखोगे। मुझे लगता है कि अब जब कभी भी वह खेलेगा, वह अच्छा करेगा।’

न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए टी-20 मैच में राजकोट में भारत को 40 रनों से हार का सामना करना पड़ा। न्यूजीलैंड ने इस जीत के साथ ही सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली। मैच के बाद बुमराह ने संवाददाताओं से कहा, ‘एक गेंदबाज के रूप में जब आपको निशाना बनाया जाता है तो आपको काफी कुछ सीखने को मिलता है। इसलिए मुझे लगता है कि इस अनुभव के बाद वह अगले मैच में बेहतर गेंदबाज बनेगा।’ बुमराह ने मैच में किफायती गेंदबाजी करते हुए 23 रन दिए लेकिन उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। वहीं 23 वर्षीय सिराज को पारी का दूसरा ओवर फेंकने का मौका दिया गया। उन्होंने चार ओवर में 53 रन देकर न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन का विकेट हासिल किया।

इस मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने कोलिन मुनरो के नाबाद 109 रन की बदौलत दो विकेट पर 196 रन बनाए। वहीं दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत खराब रही। भारत ने 11 के स्कोर पर ही शिखर धवन (1) और रोहित शर्मा (5) के विकेट खो दिए। छह के कुल स्कोर पर बाउल्ट ने धवन को बोल्ड किया और फिर पांच रन बाद रोहित को विकेट के पीछे ग्लेन फिलिप्स के हाथों कैच कराया। अपना दूसरा मैच खेल रहे श्रेयस अय्यर ने 21 गेंदों में चार चौकों की मदद से 23 रनों की पारी खेली और कप्तान कोहली के साथ मिलकर टीम को संभालते हुए स्कोर 65 तक ले गए। लेकिन इसी स्कोर पर बल्ले से कमाल दिखाने वाले मुनरो ने अय्यर को अपनी ही गेंद पर लपक लिया। हार्दिक पांड्या (2) एक बार फिर विफल रहे और ईश सोढ़ी की गुगली पर गच्चा खाकर बोल्ड हो गए।

धोनी (49) और कोहली ने टीम की जीत दिलाने की जिम्मेदारी उठाई। कप्तान और पूर्व कप्तान की जोड़ी लगातार रन बटोर रही थी। दोनों बड़े शॉट्स लगाने के अलावा विकेट के बीच अच्छी दौड़ से भी किवी फील्डरों के हाथ से रन चुरा रहे थे। लेकिन मिशेल सैंटनर की गेंद कोहली के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर विकेटकीपर फिलिप्स के दस्तानों में जा समाई और कोहली पवेलियन लौट लिए। यहां से किवी टीम की जीत लगभग तय हो गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule