ताज़ा खबर
 

‘पत्थरबाज से फुटबॉलर’ बनीं अफशां आशिक पीएम नरेंद्र मोदी को बताएंगी फिटनेस के गुर, सुनाएंगी अपने सफर की कहानी

अफशां आशिक की एक फोटो दिसंबर 2017 में सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी। उस तस्वीर में वह जम्मू-कश्मीर पुलिस पर पत्थर फेंकती दिख रही थीं।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: September 24, 2020 7:06 AM
AFSHAN ASHIQमहिला फुटबॉलर अफशां आशिक।

जम्मू-कश्मीर की महिला फुटबॉलर अफशां आशिक देश के उन शीर्ष खिलाड़ियों में शामिल हैं जो आज यानी 24 सितंबर को फिट इंडिया डायलॉग सत्र के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करेंगी। अफशां 2017 में श्रीनगर में पुलिस पर पत्थरबाजी के कारण खबरों में आईं थीं। गोलकीपर अफशां के अलावा इस सत्र के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली, दो बार के पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया, अभिनेता मिलिंद सोमन जैसे लोग भी प्रधानमंत्री मोदी से बात करेंगे।

अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) की ओर से जारी बयान में कहा गया है, ‘यह बातचीत ऑनलाइन होगी। इसमें हिस्सा लेने वाले लोग अपनी कहानियां साझा करेंगे और अपने सफर के दौरान अपनी फिटनेस के गुर बताएंगे। प्रधानमंत्री मोदी भी स्वास्थ्य और फिटनेस को लेकर अपना पक्ष रखेंगे।’ बयान के मुताबिक, ‘इस बातचीत के दौरान पोषण, स्वास्थ्य और फिटनेस से जुड़े अन्य पहलुओं पर चर्चा होगी, क्योंकि कोविड-19 महामारी के बीच फिटनेस जीवन का अहम हिस्सा बन गया है।’

तीन साल पहले अफशां की जम्मू-कश्मीर पुलिस पर पत्थरबाजी करने की तस्वीरें राष्ट्रीय मीडिया में सुर्खियां बनी थीं। अफशां आशिक की एक फोटो दिसंबर 2017 में सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी। उस तस्वीर में वह जम्मू-कश्मीर पुलिस पर पत्थर फेंकती दिख रही थीं। उस तस्वीर में अफशां का चेहरा दुपट्टे से ढका था।

अफशां के मुताबिक, ‘कोठी बाग के गवर्नमेंट हायर सेकंडरी स्कूल की 20 लड़कियों की टीम को जब वह फुटबॉल के अभ्‍यास के लिए मैदान में पहुंचाने वाली थीं, तब उन्होंने कुछ लड़कों को पुलिस पर पथराव करते हुए देखा। वे लड़के पुलवामा डिग्री कॉलेज में पुलिस कार्रवाई के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। लड़कों को प्रदर्शन करते देख वे अपनी लड़कियों के साथ वहीं रुक गईं।’

अफशां ने कहा, ‘पुलिस को लगा कि हम वहां पथराव के लिए खड़े हैं। पुलिस के एक जवान ने तो एक लड़की को थप्पड़ तक मारा। इसके बाद हमें गुस्‍सा आ गया और हमने पथराव शुरू कर दिया।’ हालांकि, उस घटना के बाद अफशां ने जम्मू-कश्मीर में महिला फुटबॉल को बढ़ावा देने का फैसला किया। 25 साल की अफशां जम्मू-कश्मीर महिला फुटबॉल टीम की गोलकीपर के रूप में खेलीं। बाद में 2019 में इंडियन वुमन्स लीग में एफसी कोल्हापुर सिटी की ओर से खेलीं। वह श्रीनगर में युवा खिलाड़ियों को ट्रेनिंग भी देती हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 KKR vs MI: रोहित शर्मा ने IPL में पूरी की छक्कों की डबल सेंचुरी, सूर्यकुमार यादव ने भी नाम किया खास रिकॉर्ड
2 IPL 2020: सनराइजर्स हैदराबाद के मिशेल मार्श पूरे टूर्नामेंट से बाहर, जानिए किस ऑलराउंडर की हुई टीम में एंट्री
3 यूएई में पहली बार जीती मुंबई इंडियंस, 7 साल बाद केकेआर ने गंवाया अपना पहला मुकाबला
IPL 2020 LIVE
X